मंगलवार, मार्च 5, 2024
होमCOVID UPDATES | कोविड अपडेटसावधानी नहीं बरती तो भारत में कोरोना फिर से ले सकता है...

सावधानी नहीं बरती तो भारत में कोरोना फिर से ले सकता है विकराल रूप

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस इन दिनों अपनी पीक पर है पिछले कुछ दिनों से लगातार नए मामले 3 लाख से भी ज्यादा सामने आ रहे हैं वहीं देश में एक बार फिर से कोरोना ने स्पीड पकड़ ली है।

पिछले 24 घंटे में 3.37 लाख केस सामने आए हैं। लगातार ये तीसरा दिन है, जब कोरोना के देश में तीन लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं। देश में एक्टिव मामले बढ़कर 21 लाख हो गए हैं।

पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना से 488 लोगों ने कोरोना से जान गंवाई। अब तक देश में कोरोना से 4,88,884 लोगों की मौत हो गई। देश में 5 सबसे संक्रमित राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र टॉप पर है।



महाराष्ट्र में कोरोना के 48,270 केस सामने आए हैं. इसके बाद कर्नाटक में (48,049 केस), केरल में (41,668 केस), तमिलनाडु में 29,870 केस, गुजरात में 21,225 केस सामने आए हैं।

कोविड महामारी जल्द खत्म नहीं होने वाली, सावधानी बरते: डब्ल्यूएचओ

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम घेब्रेयसस ने विश्व नेताओं को चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि कोविड-19 महामारी ‘कहीं खत्म नहीं हुई है।’

बीबीसी ने बताया कि डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने इस धारणा के खिलाफ आगाह किया कि नया प्रमुख ओमिक्रॉन वेरिएंट काफी हल्का है और इसने वायरस से उत्पन्न खतरे को समाप्त कर दिया है। डब्ल्यूएचओ ने यह चेतावनी तब दी है, जब कुछ यूरोपीय देशों में रिकॉर्ड नए मामले सामने आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यह भ्रामक है कि यह एक हल्की बीमारी है। उन्होंने कहा, “कोई गलती न करें, ओमिक्रान अस्पताल में भर्ती होने और मौतों का कारण बन रहा है।”

वैश्विक नेताओं को चेतावनी दी कि ‘विश्व स्तर पर ओमिक्रॉन की अविश्वसनीय वृद्धि के साथ नए वेरिएंट उभरने की संभावना है। यही वजह है कि ट्रैकिंग और मूल्यांकन महत्वपूर्ण हैं।

डब्ल्यूएचओ के आपात निदेशक माइक रयान ने भी चेतावनी दी है कि ऑमिक्रोन की बढ़ी हुई संचरण क्षमता से अस्पताल में भर्ती होने और मौतों में वृद्धि होने की संभावना है। खासकर उन देशों में जहां कम लोगों को टीका लगाया जाता है।

Desk Publisher
Desk Publisher is a authorized person of The Goandhigiri. He/She re-scrip, edit & publish the post online. Pls, contact thegandhigiri@gmail.com for any issue.
You May Also Like This News
the gandhigiri news app

Latest News Update

Most Popular