Home Duniya Samachar पूरे कनाडा को इस सिख ने हिला कर रख दिया, जानिये वजह

पूरे कनाडा को इस सिख ने हिला कर रख दिया, जानिये वजह

1
0
जस्टिन त्रूदो, कनाडा चुनाव, जगमीत सिंह, न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी, लिबरल पार्टी, Canada General Election, Jagmeet Singh, New Democratic Party, Liberal Party, Justin Trudo

ओटावा: कनाडा में हुए आम चुनाव (Canada General Election) में भारतीय मूल के कनाडाई जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) के नेतृत्व वाली न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी (New Democratic Party) किंगमेकर बनकर उभरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रधानमंत्री जस्टिन त्रूदो (Justin Trudo) की लिबरल पार्टी को इस चुनावी मुकाबले में बहुमत नहीं मिल सकी है। हालांकि सबसे अधिक सीट जीतने के साथ वह सत्ता की दावेदार है। चुनाव में एनडीपी को 24 सीट जबकि लिबरल पार्टी (Liberal Party) को 157 सीट मिली हैं।

ऐसे में त्रूदो को 338 सदस्यीय हाउस ऑफ कॉमन्स में लिबरल पार्टी (Liberal Party) के नेतृत्व वाली अल्पमत सरकार बनाने के लिए 170 के जादुई आंकड़ा पाने को वामपंथी झुकाव वाली विपक्षी पार्टियों से कम से कम 13 सांसदों के समर्थन की जरूरत पड़ेगी।

इस चुनाव (Canada General Election) में विपक्षी कंजर्वेटिव को 121, ब्लॉक क्यूबेकोइस को 32, ग्रीन पार्टी को तीन और निर्दलीय को एक सीट मिली। ग्रीन पार्टी ने पहले ही विपक्ष में बैठने के संकेत दिए हैं।

वहीं ब्लॉक क्यूबेकोइस नेता येव्स फांकोइस ब्लैंचेट ने भी सरकार में शामिल होने की इच्छा नहीं जताई। ऐसे में सभी की निगाहें एनडीपी (New Democratic Party) पर टिकी हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, एनडीपी संसद में किंगमेकर की भूमिका निभाने को तैयार है।

जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) चुनाव में अपना अस्तित्व बचाने में कामयाब रहे लेकिन 2015 के मुकाबले इस बार वह केवल 50 फीसदी सीटें ही बचा पाए।

सीटों की संख्या में गिरावट के बावजूद जगमीत सिंह ने कहा, हमारी पार्टी कनाडाई लोगों की प्राथमिकताओं पर काम करने के लिए अब कड़ी मेहनत करेगी।

प्रधानमंत्री पद के दावेदार रहे जगमीत सिंह ने कहा कि वह चाहते हैं कि एनडीपी नई संसद में रचनात्मक भूमिका निभाए।

कनाडा में संघीय राजनीतिक दल के पहले अश्वेत नेता ने 47 साल के त्रूदो की जीत पर उन्हें बधाई दी और कहा कि उन्होंने उनसे बात की है।

जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) का राजनीतिक करियर 2011 से शुरू हुआ। वह अपना पहला चुनाव हार गए थे। 2015 मे उन्हें एनडीपी का उपाध्यक्ष चुना गया।

2017 में उन्होंने पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के लिए चुनाव लड़ा। वह चार उम्मीदवारों के बीच 53.8 फीसदी वोट पाकर एकतरफा जीते थे।

Read this Hindi News : US : डोनाल्ड ट्रंप व्हाइट हाउस में मनाएंगे दिवाली का त्योहार

Read this Hindi News : इजरायल: बेंजामिन नेतन्याहू गठबंधन सरकार बनाने में विफल

the gandhigiri, whatsapp news broadcast

  

क्या आपको यह खबर पसंद आई?

तो लाइक कर के हमें भी बतायें

       ----------------------------------------------------------  
हम आपको इस खबर से जुड़ी ताजा अप्डेट्स भेजते रहेंगे