होम Farmer Protest | किसान आंदोलन संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक संपन्न, किसान आंदोलन को पूर्वाचल में तेज...

संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक संपन्न, किसान आंदोलन को पूर्वाचल में तेज करने पर चर्चा

sanyuktt-kisan-morcha-meeting-concluded-in-ghazipur
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) की दो दिवसीय बैठक गाजीपुर के नंदगंज में 18 फरवरी 2021 को कृषि भूमि बचाओ मोर्चा के डॉ परमानंद यादव की अध्यक्षता में संपन्न हुई।

बैठक में तीन किसान विरोधी कानून वापस करने तथा समर्थन मूल्य पर खरीदी के गारंटी के कानून बनाये जाने की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा किये जा रहे आंदोलन पर चर्चा उपरांत इस किसान आंदोलन को पूर्वाचल में आगे बढ़ाने पर चर्चा की गई।

Rail Roko Abhiyan: दिल्ली के पास किसानों ने रेलवे ट्रैक पर किया कब्जा, कई मेट्रो स्टेशन बंद

इस बैठक में निम्न निर्णय लिए गए…

  • आगामी मार्च के तीसरे सप्ताह में पूर्वाचल में क्षेत्रीय स्तर की किसान महापंचायत का आयोजन किया जाएगा जिसमें सयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय नेताओं को भी आमंत्रित किया जाएगा।
  • 21 फरवरी से गाजीपुर, बलिया, मऊ, बनारस के गांव-गांव में किसान बैठकों के माध्यम से किसान महापंचायत और किसान आंदोलन की जानकारी किसानों तक पहुंचाई जाएगी।
  • 6 मार्च को पूर्वाचल सयुक्त किसान मोर्चा के गठन वास्ते विभिन्न किसान संगठन एवं नागरिक संगठनों की बैठक का आयोजन किया जाएगा।

राजधानी लखनऊ में रिश्ते हुए शर्मसार, सामने आई हत्या की सनसनीखेज़ घटना

संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) की बैठक में विभिन्न किसान संगठनों के नेतृत्व कारी साथी उपस्थित रहे जिसमें प्रमुख रुप से कृषि भूमि बचाओ मोर्चा से अमरनाथ यादव, रामाश्रय यादव, राघवेंद्र, जोखन यादव, कुसुम तिवारी, जय शंकर।

स्वराज इंडिया से बलवंत यादव, रिहाई मंच से राजीव यादव और शाह आलम, हरियाण से परमाणु विरोधी मोर्चा से राजेन्द्र शर्मा, जनसंघर्ष समन्वय समिति से राजेन्द मिश्रा, बिहान से रविन्द्र, झारखंड से गांव गणराज्य के कुमारचंद मार्डी, किसान सभा से बचेलाल यादव, बेच्यु केशव आदि प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

अन्य बड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

the-gandhigiri-telegram-channel