होम Local | स्थानीय अचानक सड़क धंसी और 25 फीट गहरे गड्ढे में जा गिरा ऑटो,...

अचानक सड़क धंसी और 25 फीट गहरे गड्ढे में जा गिरा ऑटो, फिर भी मेयर साहब को लगता है “ऑल इज़ वेल”

jaipur-chaumun-house-circle-road-sunken-auto-rickshaw-fell-into-25-feet-pit
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

जयपुर। शहर में शनिवार सुबह 6 बजे चौमूं हाउस सर्कल (Chaumun House Circle) पर अचानक सड़क धंसने से वहां 25 फीट गहरा और 30 फीट चौड़ा गड्ढा हो गया। इसी दौरान वहां से गुजर रहा एक ऑटो गड्ढे में जा गिरा। हादसे में ऑटो चालक और सवार युवती घायल हो गए।

हादसे के तुरंत बाद वहां मौजूद एक सुरक्षा गार्ड और कुछ ऑटो चालकों ने पहुंचकर गए रस्सी की सहायता से युवती और ऑटो चालक को गड्ढे से बाहर निकाला अस्पताल पहुंचाया।

सूचना मिलने पर अशोक नगर थाना और दुर्घटना थाना दक्षिण पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद क्रेन से ऑटो रिक्शा को बाहर निकाला गया।

गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा होने से रह गया, लेकिन जिम्मेदारों के बयान से लगता है कि इस हादसे को वे काफी हल्के में ले रहे हैं। उन्हें ऐसा हादसा होने का पहले से अंदाजा था। फिर भी जनता की जान के साथ खिलवाड़ करते हुए अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया।

यह भी पढ़ें: विज्ञान फाऊंडेशन ने कराया सरकारी स्कूल के बच्चों को आंचलिक विज्ञान नगरी की सैर

जयपुर नगर निगम उपायुक्त आरके मेहता ने कहा कि सड़क के नीचे 50 साल पुरानी सीवर लाइन है। जिसकी खराब हालत के बारे में उन्हें पहले से पता थी।

उपायुक्त ने कहा कि, उस सीवर लाइन को बदलने के टेंडर निकाले जा चुके हैं। इसके निर्माण में 1 करोड़ की लागत आनी है। फिलहाल, मौके पर सीवर लाइन को ठीक करके ट्रैफिक शुरू करवा दिया जाएगा।

वहीं, जयपुर हेरिटेज मेयर मुनेश गुर्जर ने अपने गैरजिम्मेदारान बयान में कहा कि हादसा कहीं भी और कभी भी हो सकता है। साथ ही उन्होंने हादसे की जांच कराने का आश्वासन दिया है।

जानकारी के अनुसार टोंक फाटक के पास मधुबन कॉलोनी निवासी 28 वर्षीय युवती रेखा कोटिया आज सुबह सिंधिकैंप बस स्टैंड से ऑटो में बैठकर घर जा रही थी।

तभी चौमूं हाउस सर्किल (Chaumun House Circle) पर कुछ ही सेकंड्स में सड़क धंस गई। जिससे ऑटो चालक को संभलने का मौका नहीं मिला और वो 25 फीट गहरे गड्‌ढे में जा गिरा।

ऑटो स्टार्ट में इस्तेमाल रस्सी से बचाई जान

हादसे के दौरान एक गार्ड नजदीक में ही चाय पी रहा था। वह तुरंत मौके पर पहुंचा। तभी कुछ और ऑटो चालक भी वहां पहुंच गए।

सभी ने ऑटो स्टार्ट में इस्तेमाल होने वाली 5-6 रस्सियों को जोड़कर नीचे गड्ढे में डाली। रस्सी से युवती और ड्राइवर को बांधकर बाहर निकाला जा सका।

इसके बाद दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां युवती रेखा को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

विज्ञान फाऊंडेशन ने कराया सरकारी स्कूल के बच्चों को आंचलिक विज्ञान नगरी की सैर

the-gandhigiri-telegram-channel