दिल्ली हिंसा में अब तक 28 लोगों की मौत, सीलमपुर में कुछ सुधरे हालात

दिल्ली हिंसा में मौत, दिल्ली सांप्रदायिक हिंसा, नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी, सीएए, Death in Delhi Violence, Delhi Communal Violence, Citizenship Amendment Act, NRC, CAA,

नई दिल्ली: उत्तर पूर्वी दिल्ली में पिछले दो दिनों में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर भड़की हिंसा में अब तक 28 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 56 पुलिसकर्मियों समेत करीब 300 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

विभिन्न अस्पताल से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, मृतकों की संख्या में और बढ़ोतरी हो सकती है, क्योंकि घायलों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। बीते दो दिनों के दौरान अलग-अलग अस्पतालों में 400 से ज्यादा लोगों को इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है।

इस बीच भजनपुरा और खुरेजी खास इलाके में पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। पुलिस के मुताबिक, सीलमपुर में हालात अब सुधरते दिख रहे हैं। यहां बुधवार सुबह 4:30 बजे के बाद से हिंसा की कोई घटना सामने नहीं आई है। वहीं पुलिस ने बाबरपुर, जाफराबाद और गोकुलपुरी में यातायात बंद कर रखा है।

यह भी पढ़ें: गौतम गंभीर ने कहा, दिल्ली में दंगा भड़काने वाले भाजपा नेता कपिल मिश्रा को जेल में डालो

सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर दिल्ली हिंसा के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने और जल्द से जल्द शांति बहाली की मांग कर रहे लोगों को पुलिस ने हटा दिया है।

पुलिस ने छात्र-छात्राओं पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। बड़ी संख्या में छात्र सीएम आवास के बाहर ‘केजरीवाल बाहर आओ, हमसे बात करो’ के नारे लगा रहे थे।

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन मंगलवार देर रात घायलों का हालचाल जानने गुरु तेग बहादुर अस्पताल (GTB) पहुंचे। केंद्रीय मंत्री ने अस्पताल का दौरा करने के बाद कहा, “मुझे पता चला कि यहां 81 घायलों का इलाज चल रहा है, इनमें से कुछ घायलों को इलाज करने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। कई को गंभीर चोटें भी आई हैं और मैं उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने बताया कि हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के सभी सरकारी और निजी स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे। गृह परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं।

सिसोदिया ने सीबीएसई से बुधवार को होने वाली बोर्ड परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया। जिसके बाद सीबीएसई ने बुधवार को होने वाली बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में दंगाइयों को सबक सिखाने के लिए असदुद्दीन ओवैसी ने उठाई यह मांग

Abhishek Verma is native of Basti district of Uttar Pradesh state in India and living in Lucknow, Vinamra Khand, Gomtinagar- 226010. He is under trainee. He works as freelancer. Contact him via mail meet2abhiverma@gmail.com or call him at +91-7017935177