पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक घोटाला में बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक पीआईएल पर आरबीआई से मांगा जवाब, Bombay High Court seeks response from RBI on a PIL in Punjab and Maharashtra Cooperative (PMC) bank scam

PMC Bank घोटालाः बॉम्बे हाईकोर्ट ने RBI से मांगा जवाब

नई दिल्ली: पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) के खातों से कैश निकासी पर लगी रोक के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से जवाब मांगा है। कोर्ट ने खाताधारकों की चिंताओं पर आगामी 13 नवंबर तक आरबीआई को जवाब देने के लिए कहा है।

कोर्ट ने कहा कि अगर वह आरबीआई के जवाब से संतुष्ट होता है तो इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करेगा। इस मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका (PIL) दायर की गई। गत शुक्रवार को इस पीआईएल पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई हुई।

बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने इस मामले में केंद्र सरकार और भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) को अपना पक्ष रखने के लिए नोटिस जारी किया है। दिल्ली हाईकोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई 22 जनवरी 2020 को होगी।

पीआईएल (PIL) में दिल्ली हाईकोर्ट से पीएमसी बैंक (PMC Bank) के खातों से कैश निकासी पर लगे प्रतिबंध को हटाने का आदेश देने की मांग की गई है। आरबीआई ने पीएमसी बैंक के खातों से कैश निकासी पर प्रतिबंध लगा दिए थे।

पहले ग्राहकों को 6 महीने में अधिकतम 1 हजार रुपए निकालने की अनुमति दी गई थी। बाद में इसे बढ़ाकर 40 हजार रुपए कर दिया गया था। बता दें कि लगभग 15 लाख से अधिक खाताधारकों के पैसे पीएमसी में फंसे पड़े हैं। पैसे फंसे होने की वजह से कई लोगों की मौत तक हो चुकी है

खाताधारक विभिन्न जगहों पर धरना प्रदर्शन भी कर चुके हैं, लेकिन अभी कोई राहत नहीं मिली है। इस पर खाताधारकों ने पहले दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन दिल्ली हाईकोर्ट ने उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट जाने के लिए कहा था।

यह भी पढ़ें: 3 एनपीए खातों को नीलाम कर SBI वसूलेगा 700 करोड़ रुपए

the gandhigiri, whatsapp news broadcast

the gandhigiri app download, thegandhigiri