क्या आंध्रप्रदेश के नये सीएम जगन मोहन रेड्डी ने ईसाईयत छोड़ अपनाया हिन्दू धर्म?

jagan mohan reddy converted in hindu, जगन मोहन रेड्डी

इन दिनों सोशल मीडिया पर आंध्रप्रदेश के नये मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं. इन तस्वीरों में रेड्डी हिन्दू धर्म की कुछ रीति-रिवाज़ का पालन करते हुए दिख रहे हैं. इन तस्वीरों के साथ ऐसा संदेश दिया जा रहा है कि, रेड्डी ने ईसाईयत छोड़ हिन्दू धर्म को अपना कर घर वापसी की है. लेकिन क्या यह तस्वीर और इसके साथ लिखा खबर सच है?

आंध्रप्रदेश में अप्रैल-मई 2019 के लोकसभा और विधानसभा चुनावों में रेड्डी की पार्टी वाईएसजेआर ने 175 में से 151 विधानसभा और सभी 22 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की है. गुरूवार को वो मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं. इससे पहले उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया के कई ग्रुप में वायरल हो रही है.

फेसबुक पेज ‘बजरंगी दल कोलकता’ में इन तस्वीरों के साथ लिखा है कि, ‘सोनिया गांधी की वजह से वाईएस राज शेखर रेड्डी जो जगन मोहन रेड्डी के पिता थे ने धर्म परिवर्तन करके क्रिस्चियन बने थे पर अब आंध्र के नये मुख्यमंत्री और उनके पुत्र जगन मोहन रेड्डी ने घर वापसी कर हरिद्वार में हिन्दू धर्म की दीक्षा ली’.

the gandhigiri app download, thegandhigiri  

jagan mohan reddy converted in hindu, Bajrangi dal kolkata

क्या है सच्चाई?

आपको बता दें कि रेड्डी की यह तस्वीरें 2016 की है जो वास्तविक हैं लेकिन इनके साथ लिखा संदेश पूरी तरह से झूठ है. दरअसल, अगस्त 2016 में जगन मोहन रेड्डी ने आंध्रप्रदेश को विशेष दर्जा दिलाने के लिए ऋषिकेश में एक हिन्दू अनुष्ठान किया था.

इसकी वीडियो सोशल मीडिया पर उपलब्ध है. इसी वीडियो से कुछ तस्वीरों का स्नैप शाॅट लेकर धर्म परिवर्तन का झूठा संदेश फैलाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: हिजाब पहनी युवती को भगवा गुंडों ने धमकाया, लगाये ‘जय श्रीराम’ के नारे

 

हालही में जगन मोहन रेड्डी ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि उन्हें ईश्वर से प्रेम है और प्रतिदिन बाईबिल (ईसाईयत की धार्मिक ग्रन्थ) पढ़ना पसंद है.

अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *