बाढ़ रोकने के लिए क्यों ‘गंगा मैया’ को मनाने पर मजबूर हुए ग्रामीण

flood in ghaghra river, ganga river, बाढ़, घाघरा नदी, गंगा नदी, गंगा मैया, बहराइच, कछार, ग्रामीण इलाके, बाढ़ वीडियो

बहराइच: घाघरा नदी के कछार में बसे गांवों पर घाघरा अपना कहर बरपाये हुए है. रोज़ सैकड़ों बीघा फसल नदी में समाहित हो रही है. लगातार हो रही बारिश से जलस्तर भी बढ़ने लगा है जिससे बाढ़ का ख़तरा मंडराने लगा है. प्रशासन के ढुलमुल रवैये और अनदेखी के चलते निराश किसान अब गंगा मैया की शरण में जा पहुचे हैं. घाघरा किनारे बसे ग्रामीण हवन पूजन कर गंगा मैया को मनाने की कोशिश में लग गए हैं.

वीडियो न्यूज़ देखें

घाघरा नदी किनारे बसे मझरा तौकली 11 सौरेती गावों में कटान ने कहर बरपा रखा है. लगातार किसानों की फसल भी नदी में समाहित होती जा रही हैं. घाघरा के कछार में बसे कई गावों नदी लील चुकी है जिसमे खुज्जी, गुलबपुरवा खाले गाँव है. साथ ही कई इलाके कटने की कगार पर हैं जिनमें भिरगुपरवा जैसे गाँव शामिल है.

यह भी पढ़ें: किसानों को ठग बीजेपी सरकार बाबा रामदेव को दे रही आधे दाम पर 400 एकड़ ज़मीन

ग्रामीणों का कहना है की हमारी फसल, ज़मीन और घर सब नदी लीलती जा रही है लेकिन सरकारी महकमा हाथ पर हाथ धरे बैठा है. कटान पीड़ितों को मिलने वाली राहत सामग्री जैसे तिरपाल, खाना, पानी तक नहीं पहुचाया जा रहा है. एसडीएम एक दो बार आये और मुआयना कर के चले गए. फिर दुबारा कभी नज़र नहीं आये.

सत्ताधारी भी नहीं आये झाँकने

नाराज़ ग्रामीणों का कहना है कि चुनाव के मौके पर नेता और मंत्री सब आये. बड़े बड़े वादे किये लेकिन अब कोई झाँकने तक नहीं आ रहा है. जिला प्रशासन और सत्ताधारी नेताओं की अनदेखी से गांवों के लोग काफी निराश हो चुके है.

मूसलाधार बारिश से घाघरा उफान पर

बता दें कि लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया है. घाघरा नदी के कटान से तबाही मची हुई है और अब बाढ़ का संकट जिले पर मंडरा रहा है. नदी के किनारे बसे गांव वाले अपनी तबाही को आता देख बेबस खड़े हैं लेकिन प्रशासन की नज़र में सब कुछ नियंत्रण में है.

प्रशासन का क्या कहना है

एडीएम राम सुरेश वर्मा ने बताया की फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है. नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से नीचे है. थोड़े बहुत कटान की समस्या है, लेकिन वहां भी हम आवश्यक कार्रवाई कर रहे हैं.

  • बहराइच से मोहम्मद आमिर की रिपोर्ट

अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

Asif Khan works as freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India.. He is native of Gorakhpur district. Asif Khan has worked with former Nav Bharat Times special correspondent Mr. Vijay Dixit, worked as video journalist in IBC24 news from Lucknow, worked with 4tv bureau chief Mr. Ghanshyam Chaurasiya, worked with special correspondent of Jan Sandesh Times Capt. Tapan Dixit. He has worked as special correspondent in The Dailygraph news. Contact with him via mail asifkhan2.127@gmail.com or call at +91-9389067047

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *