Home Rajya Samachar मोदी राज में जवान को ही नहीं, बल्कि उनकी पत्नियों को भी...

मोदी राज में जवान को ही नहीं, बल्कि उनकी पत्नियों को भी नौकर बना रहे हैं सेनाधिकारी

58
soldier revealed corruption in indian army, भारतीय सेना, indian army, भारतीय सेना के जवान का शोषण, video of indian army soldier, भारतीय सेना में भ्रष्टाचार, भारतीय सेना के अंदर जवानों का शोषण

thegandhigiri-news-app-may-2020

भारतीय सेना के अंदर जवानों का शोषण करने के ऐसे कई मामले सोशल मीडिया के माध्यम से पहले भी सामने आ चुके. लेकिन इस बार एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें जवान का ही नहीं बल्कि उनके परिवार का भी शोषण किया जा रहा है. इस देश के लिए अपनी जान तक कुर्बान कर देने वाले जवानों के पास अपनी पीड़ा बताने के लिए केवल सोशल मीडिया का सहारा है. यह वाकई में काफी दुर्भाग्यपूर्ण है.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया गया है. जिसमें एक जवान बता रहा है कि सेना के बड़े अफसरों की पत्नियां अपने निजी कामों के लिए जवानों की पत्नियों को जबरन बुलाती हैं. मना करने पर अफसर उन जवानों को बोरी-बिस्तर बांध कर घर वापस भेज देने की धमकी देते हैं.

वीडियो देखें

यह भी पढ़ें: किसानों को ठग बीजेपी सरकार बाबा रामदेव को दे रही आधे दाम पर 400 एकड़ ज़मीन

सेना का यह जवान आपबीती बताते हुए कहता है कि, कोई जवान किसी समस्यावश अपना परिवार साथ रखता है. लेकिन फैमिली वेल्फेयर सेंटर में सेनाधिकारियों की पत्नियां जवानों को प्रताड़ित करती हैं. अपने अधिकार का दुरूपयोग करते हुए वो जवानों के परिवार से भी नौकरों जैसा काम लेना चाहती हैं. इस पर सेनाधिकारी भी अपनी पत्नी का साथ देते हैं.

जवान कहता है कि सेना में अधिकारियों से ज्यादा उनकी पत्नियों का कमांड चलता है. 25 से 30 जवान हर अधिकारी के घर पर नौकरों जैसा काम करने के लिए मजबूर किया जाता है. सेना में जूनियर अफसर से लेकर सीनियर अफसरों ने अपनी यूनिटी बना रखी है. सेना में सेनावाद नहीं बल्कि अफसरों का परिवारवाद चलता है. अधिकारी कहते हैं कि मुझे सेल्यूट भले ही न मारो लेकिन मेम साहब को सेल्यूट ज़रूर किया करो. फैमिली वेल्फेयर सेंटर में अफसरों के आगे जवानों की पत्नियों को नचाते हैं.

यह भी पढ़ें: चीन में पत्रकारों के साथ जो हो रहा है उसे बताने की हिम्मत किसी में नहीं – रविश कुमार

जवान आगे कहता है कि भारत सरकार जवानों के यूनिफार्म पर पैसा खर्च कर रही है. लेकिन जवानों तक वो यूनिफार्म नहीं पहुंच रही. हम यूनिफाॅर्म अपने पैसों से खरीद कर पहन रहे हैं. इसके अलावा खाद्य सामग्री में भी घोटाला चल रहा है. जवान का दावा है कि सेना में बड़े स्तर पर घोटाला चल रहा है जिसकी जांच होनी चाहिए.

पहले भी जवान तेज बहादुर यादव का वीडियो हो चुका है वायरल

बता दें कि इससे पहले सेना के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव का वीडियों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था. जिसमें उन्होंने जवानों को दिये जा रहे निम्न स्तर के भोजन पर सवाल उठाया था.

इसके बाद भारतीय सेना की ओर से उन पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए उन्हें सेना से बर्खास्त कर दिया गया था.

तेज बहादुर ने कई महीनों तक इंसाफ पाने के लिए लड़ाई लड़ी. और आखिर में लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का फैसला लिया. लेकिन चुनाव आयोग की ओर से खामिया निकाल कर उनके आवेदन को रद्द कर दिया गया था.

अब देखना यह है कि इस जवान को भी तेज बहादुर की बहादुरी के बदले विपरीत इनाम मिलता है, या इस बार मोदी सरकार नींद से जाग कर जवानों के हितों की रक्षा करेगी.

अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

https://www.thegandhigiri.com/eoin-morgan-thanks-to-allah-for-winning-cricket-world-cup-2019/

 

https://www.thegandhigiri.com/aimim-chief-asaduddin-owaisi-said-you-are-not-ram-devotees-but-demon-devotees/