Home Rashtriya Samachar Breaking News: देश की अर्थव्यवस्था गड्ढे में और अंबानी की अर्थव्यवस्था आसमान...

Breaking News: देश की अर्थव्यवस्था गड्ढे में और अंबानी की अर्थव्यवस्था आसमान छू रही है

157
Mukesh Ambani Economy, Mukesh Ambani, Reliance Industries, Number One company of India, Economy of India, PM Modi, Modi and Ambani, देश की अर्थव्यवस्था, रिलायंस इंडस्ट्रीज, पीएम मोदी, उद्योगपति, मुकेश अंबानी,

thegandhigiri-news-app-may-2020

नई दिल्ली: अब रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के अलावा और कहीं नौकरी सुरक्षित नहीं लगती। इसकी वजह है कि, जहां एक ओर देश की अर्थव्यवस्था (Economy of India) तेजी से गड्ढे में गिरती नजर आ रही है, लाखों की संख्या में लोगों की नौकरियां जा रही हैं वहीं, पीएम मोदी (PM Modi) के करीबी उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) का कारोबार दिन दुगनी, रात चौगनी तरक्की पर है।

देश की अर्थव्यवस्था (Economy of india) पर अर्थशास्त्रियों से लेकर पूर्व आरबीआई गवर्नर तक ने रेड एलर्ट की ओर इशारा किया है। अब तो विदेशों में भी भारत की तेजी से गिरती अर्थव्यवस्था की चर्चाएं गर्म होने लगी हैं।

हालही में उत्तर प्रदेश सरकार ने भी बजट के अभाव में 25 हज़ार से भी ज़्यादा होमगार्ड्स की सेवा समाप्त कर दी।

बीएसएनएल, जेट एयरवेज, भारत पेट्रोलियम जैसी कई प्राइवेट और अर्धसरकारी कंपनियां दिवालिया घोषित हो चुकी हैं। लेकिन इन सब के बावजूद देश की दिग्‍गज कंपनी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (Reliance Industries) ने शुक्रवार को नया इतिहास रचा।

उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की RIL देश की पहली ऐसी कंपनी बनी जिसका मार्केट कैप 9 लाख करोड़ रुपए तक पहुंचा है।

शुक्रवार को शेयर बाजार में कारोबार के दौरान जब रिलायंस के शेयर 2 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 1,428 रुपए पर कारोबार कर रहे थे, तो इसका मार्केट कैप 9.03 लाख करोड़ रुपए पहुंचा। इससे पहले, अगस्‍त में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (Reliance Industries) का मार्केट कैप 8 लाख करोड़ रुपए पहुंचा था।

आपको बता दें पिछले साल सरकारी कंपनी इंडियन आयल कार्पोरेशन (IOC) को पीछे छोड़ते हुए RIL देश में सबसे अधिक आमदनी दर्ज करने वाली कंपनी भी बन गई है।

पेट्रोलियम से लेकर, रीटेल और टेलीकॉम जैसे विभिन्न सेक्टर्स में फैली RIL ने वित्त वर्ष 2018-19 में कुल 6.23 लाख करोड़ रुपए का कारोबार किया है।

वहीं, आईओसी ने 31 मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में 6.17 लाख करोड़ रुपए का एकीकृत कारोबार किया।

जबकि, मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की RIL आईओसी से दो गुना लाभ कमाकर देश की सबसे बड़ी मुनाफा कमाने वाली कंपनी भी है।

शुक्रवार को रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के दूसरी तिमाही के परिणाम आने वाले हैं। शेयर की कीमतों में उछाल से कंपनी ने यह नया मुकाम हासिल किया है।

विशेषज्ञों का अनुमान है कि रिफाइनिंग मार्जिन सुधरने से रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की कमाई सितंबर तिमाही में अच्‍छी रहेगी।

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के बाद टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज (TCS) ऐसी दूसरी कंपनी थी जिसका मार्केट कैप 8 लाख करोड़ रुपए पहुंचा था।

हालांकि, शुक्रवार को टीसीएस के शेयर गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे और इसका मार्केट कैपप 7.66 लाख करोड़ रुपए था।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार भारत पेट्रोलियम बेचने को तैयार, कौन है खरीदार?

Video : योगी सरकार ने होमगार्ड्स के हाथों में पकड़ा दिया कटोरा, सड़कों पर भीख मांगते दिखे जवान

the gandhigiri, whatsapp news broadcast