Home Rajnitik Khabar क्या ‘वायनाड में राहुल की जीत पर लहराये पाकिस्तानी झंडे’? नमो ग्रुप...

क्या ‘वायनाड में राहुल की जीत पर लहराये पाकिस्तानी झंडे’? नमो ग्रुप में शेयर की गई तस्वीर

88
pakistan flag in wayanad after rahul gandhi victory in loksabha election 2019`, वायनाड

thegandhigiri-news-app-may-2020

लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 300 से ज्यादा सीटों पर कब्जा कर भारी बहुमत से जीत हासिल की. इसके बावजूद बीजेपी समर्थक सोशल मीडिया पर फर्जी तरीके से गैर बीजेपी पार्टी के नेताओं को जमकर निशाना बना रहे हैं. ’वी सपोर्ट नरेंद्र मोदी’, ‘आईएम विद मोदी एंड यू?’, ग्रुप और ‘बेगुसराये ज़ी न्यूज’ पेज पर एक तस्वीर शेयर की गई जिसमें कहा जा रहा है कि, “वायनाड में राहुल के जीतने के बाद #जश्न की तस्वीर, सेकुलर हिन्दुओ आँख खोल कर देखो, कहीं ऐसा ना हो तुम सोते रहो और कांग्रेस तुम्हें नामाज़वादी बना दे।
यदि हर जगह जीत जाती तो पूरे भारत में पाकिस्तान के झंडे दिखाई देते इतनी बेइज्जती के बाद भी बुद्दधि सुधरी नही तुम्हारी”.

pakistan flag in wayanad after rahul gandhi victory in loksabha election 2019`

यही तस्वीर ट्विटर पर भी वायरल हो गई है जहां पिछले 24 घंटों में इसे बड़े पैमाने पर से शेयर किया गया है।

 

दरअसल, तस्वीर तो सही है लेकिन इसे गलत सन्देश के साथ शेयर किया गया है. ऑल्ट न्यूज़ के मुताबिक, तस्वीर में दिख रहे लोग केरल में स्थित एक राजनीतिक संगठन इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के कार्यकर्ता हैं। यह तस्वीर साल की जब कार्यकर्ता उपचुनाव जीत का जश्न मना रहे थे। 12 अप्रैल, 2017 को मलप्पुरम लोकसभा सीट पर उपचुनाव हुआ था, जिसमें IUML नेता पी.एन. कुन्हालीकुट्टी विजयी हुए थे। इस तरह यह तस्वीरें न तो वायनाड में राहुल गाँधी की जीत पर लहराये गए और न ही यह पाकिस्तानी झंडा है.

wayanad

IUML पाकिस्तान के झंडे से अलग है

IUML झंडे को अक्सर पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में प्रस्तुत किया गया है। हाल ही में अप्रैल 2019 तक, राहुल गांधी के पूर्व नामांकन रोडशो पर IUML झंडे को पाकिस्तानी झंडे होने का झूठा दावा किया गया था।

दोनों झंडे- IUML और पाकिस्तान, हरे रंग के हैं। दोनों झंडों में काफी फर्क है। तुलना के लिए नीचे पोस्ट किए गए दो बैनरों को दिखाया गया है।

Pakistan flag and iuml flag

 

अन्य ख़बरें पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें