योगी सरकार का रामराज, पुलिसवालों ने युवती को अगवा कर किया सामूहिक बलात्कार, अधिकारी आरोपियों को बचाने की फिराक में

गोरखपुर में पुलिस ने युवती से किया सामूहिक बलात्कार, यूपी पुलिस, उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार, योगी सरकार का रामराज, Police raped girl in Gorakhpur, UP police, Uttar Pradesh BJP Government, Ram Raj of Yogi government, UP Police Kidnapped Girl

गोरखपुर। पिछले यूपी विधानसभा चुनाव में भाजपा की भारी बहुमत जनता के विश्वास को दर्शाती थी और योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने पर लोगों ने रामराज की उम्मीद जताई थी। लेकिन योगी राज में अब तक के आपराधिक मामलों से जंगल राज की ही उम्मीद दिख रही है। जहां जनता के रक्षक, भक्षक बन यूपी पुलिस के दो सिपाहियों ने बृहस्पतिवार रात एक युवती को गोरखनाथ इलाके से अगवा कर रेलवे स्टेशन के पास स्थित कमरे में ले जाकर सामूहिक बलात्कार किया।

जब युवती ने घर जाने देने की बात की तो दोनों ने उसे बुरी तरह पीटा। आखिरकार रात करीब एक बजे आरोपितों ने उसे 600 रुपये देकर छोड़ा। युवती ऑटो से किसी तरह घर पहुंची और परिवार को आपबीती बताई। शरीर पर काफी चोट लगी होने से घरवाले शुक्रवार देर शाम उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लाए, तब घटना का खुलासा हुआ। अब यूपी पुलिस के अधिकारी पूरे मामले को संदिग्ध बता कर रफादफा कर देना चाहते हैं और योगी सरकार खामोशी से तमाशा देख रही है।

इस सूचना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन फानन में सीओ कोतवाली वीपी सिंह महिला कर्मियों के साथ अस्पताल पहुंच गए। पीड़िता का बयान दर्ज करने के साथ ही मेडिकल भी कराया जा रहा है। हालांकि, पुलिस सामूहिक बलात्कार की घटना को संदिग्ध भी बता रही है।

जानकारी के मुताबिक, शाहपुर इलाके की रहने वाली 24 वर्षीय युवती चार भाई-बहनों में छोटी है। वह ट्यूशन पढ़ाती है। बृहस्पतिवार को वह मां के साथ बहन के घर गई थी। युवती के मुताबिक दीदी के घर कुछ विवाद हो गया, जिससे वह घर से चल पड़ी। पीछे से मां भी आ रही थी।

इसी दौरान दो सिपाही आए और बोले कि तुम धंधा करती हो। इनकार करने पर उन्होंने जबरन बाइक पर बैठा लिया। मां के पीछे आने की बात कहने पर वह गाली देने लगे। इसके बाद रेलवे स्टेशन के पास स्थित एक कमरे में ले गए। वहां दोनों ने सामूहिक बलात्कार किया।

जब उसने घर जाने देने की बात कही तो दोनों उसे बुरी तरह पीटने लगे। बाद में रात करीब एक बजे 600 रुपये देकर जाने को कहा। युवती ने जब कहा कि घर कैसे जाएगी, तो वह फिर गाली देने लगे और भगा दिया।

एसएसपी डॉ. सुनील कुमार गुप्ता ने कहा कि सीओ कोतवाली को घटना की जांच के लिए भेजा गया है। युवती को बताए गए कमरे पर ले जाया जाएगा, यदि वह होटल निकला तो किसके नाम बुक था और कौन-कौन आया, इसका पता लगाकर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव ने योगी सरकार को आईना दिखा दिया?

यह भी पढ़ें: दलित हिंसा मामलों में झंडू और प्रदर्शनकारियों पर हमला कर सरकारी गुंडों का रोल निभा रही पुलिस: रिहाई मंच

the gandhigiri app download, thegandhigiri  
Dipak Pandey is freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India. He is native of Allahabad district. He has worked with many reputed news channels and digital media platform. Contact him with email : dp362031@gmail.com, or mobile : 9125516663.