होम Big News | बड़ी खबर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर राष्ट्रपति कोविंद और पीएम...

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने किया नमन

259
125th-birth-anniversary-of-netaji-subhash-chandra-bose
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

नई दिल्ली: नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Netaji Subhash Chandra Bose) की आज 125वीं जयंती है। इस साल उनके जन्मदिवस को भारत सरकार ‘पराक्रम दिवस’ के तौर पर मना रही है। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी को याद करते हुए नमन किया है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘राष्ट्र उनके त्याग और समर्पण को हमेशा याद रखेगा।’

वहीं, राष्ट्रपति ने नेताजी को याद करते हुए लिखा, ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती वर्ष के समारोह के शुभारंभ के अवसर पर उनको सादर नमन। उनके अदम्य साहस और वीरता के सम्मान में पूरा राष्ट्र उनकी जयंती को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मना रहा है। नेताजी ने अपने अनगिनत अनुयायियों में राष्ट्रवाद की भावना का संचार किया। भारत के स्वतंत्रता संग्राम में असाधारण योगदान देने वाले नेताजी हमारे सबसे प्रिय राष्ट्र नायकों में से एक हैं। उनकी देशभक्ति और बलिदान से हमें सदैव प्रेरणा मिलती रहेगी। उन्होंने आजादी की भावना पर बहुत बल दिया और उसे मजबूत बनाने के लिए हम पूर्णतया प्रतिबद्ध हैं।’

यह भी पढ़ें: अमेरिकी रक्षा विभाग ने चीनी सेना से जुड़े Xiaomi फोन को किया ब्लैकलिस्ट, इंडिया में धड़ल्ले से हो रही बिक्री

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘महान स्वतंत्रता सेनानी और भारत माता के सच्चे सपूत नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Netaji Subhash Chandra Bose) को उनकी जन्म-जयंती पर शत-शत नमन। कृतज्ञ राष्ट्र देश की आजादी के लिए उनके त्याग और समर्पण को सदा याद रखेगा।’

बता दें, नेताजी के अलावा आज बाला साहब ठाकरे की भी जयंती है। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें अपने आदर्शों पर कायम रहने वाला व्यक्ति बताया। प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘श्री बाला साहेब ठाकरे जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि। वह अपने आदर्शों पर कायम रहते थे। उन्होंने लोगों के कल्याण के लिए अथक प्रयास किया।’

अमेरिकी रक्षा विभाग ने चीनी सेना से जुड़े Xiaomi फोन को किया ब्लैकलिस्ट, इंडिया में धड़ल्ले से हो रही बिक्री

the-gandhigiri-Whatsapp-news-Broadcast the-gandhigiri-telegram-channel