होम Politics | राजनीति Mandagadde Rama Joyc का निधन, बिहार-झारखंड के पूर्व रह चुके हैं राज्यपाल

Mandagadde Rama Joyc का निधन, बिहार-झारखंड के पूर्व रह चुके हैं राज्यपाल

169
former-bihar-jharkhand-governor-mandagadde-rama-jois-dies
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

नई दिल्ली: बिहार-झारखंड के पूर्व राज्यपाल (X-Governor) और न्यायमूर्ति मंडागड्डे रामा जोइस (Mandagadde Rama Joyc) का उम्र संबंधी बीमारियों के कारण मंगलवार को निधन हो गया। जोइस परिवार के करीबी सूत्रों ने मीडिया को बताया। वह 89 वर्ष के थे।

सूत्रों ने कहा, जोइस को कार्डियक अरेस्ट हुआ। उनके परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं। जोइस राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के अनुयायी थे और देश में राम जन्मभूमि आंदोलन के शुरुआती समर्थकों में से एक थे।

उनका जन्म 27 जुलाई, 1931 को हुआ था और वह इस साल 90 साल के हो गए होते। वह राज्यसभा के पूर्व सदस्य थे और पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में भी सेवा दे चुके थे।

डेटा लीक पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, फेसबुक और वॉट्सएप को भेजा नोटिस

मंडागड्डे रामा जोइस (Mandagadde Rama Joyc) का जन्म कर्नाटक के शिवमोगा जिले के अरगा गांव में नरसिम्हा जोइस और लक्ष्मीदेवम्मा के घर हुआ था।

उन्होंने शिवमोगा और बेंगलुरु में अध्ययन किया और बी.ए., बी.एल. डिग्री ली और कुवेम्पु यूनिवर्सिटी ने उन्हें डॉक्टर ऑफ लॉज की मानद उपाधि से सम्मानित किया था।

जोइस 1959 में अधिवक्ता के रूप में दाखिला लिया और एस के वेंकटरांगा अयंगर के चैंबर में थे। उन्हें 1977 में कर्नाटक उच्च न्यायालय का न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। उन्होंने कई अवसरों पर कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य किया है।

Godhra Kand: ट्रेन को आग लगाने के लिए पेट्रोल का इंतजाम करने वाला मुख्य आरोपी 19 साल बाद गिरफ्तार

मंडागड्डे रामा जोइस (Mandagadde Rama Joyc) मई 1992 में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। वह अंग्रेजी और कन्नड़ दोनों भाषाओं में लिखते थे। उन्होंने सर्विस लॉ, हेबियस कॉर्पस लॉ, संवैधानिक कानून पर कई किताबें लिखी थीं।

जोइस को आपातकाल के दौरान जेल में रखा गया था और बेंगलुरु सेंट्रल जेल में रखा गया था। वह कम उम्र से ही आरएसएस से जुड़े थे और न्यायपालिका से सेवानिवृत्त होने के बाद आधिकारिक रूप से भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे।

अन्य बड़ी खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें

the-gandhigiri-telegram-channel