होम Politics | राजनीति भाजपा डूबती हुई नैया है हम सवार नहीं होंगे, जो भाजपा को...

भाजपा डूबती हुई नैया है हम सवार नहीं होंगे, जो भाजपा को हरायेग हम उसके साथ हैं

suheldev-bharatiya-samaj-party-president-omprakash-rajbhar-tweet-on-up-assembly-election-2022
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से शुरू हुई अटकलों के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से सांसद अनुप्रिया पटेल और संजय निषाद ने मुलाकात की है। इसे लेकर यूपी की सियासत में अटकलें शुरू हो गयी।

वैक्सीन लगवाने के बाद शरीर में आ गई अद्भुत शक्ति
Watch this video on YouTube.

Read This: योगी सरकार ने छोड़ा, अखिलेश ने अपने कार्यकर्ताओं से बोला, “याद रहे, कोई भूखा न सोए”

इस बीच, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने निशाना साधा और कहा, “भाजपा डूबती हुई नैया है, जिसको इनके रथ पर सवार होना है हो जाए, पर हम सवार नहीं होंगे।”

Read This: वैक्सीन लगवाने के बाद शरीर में आ गई अद्भुत शक्ति, क्या 5G का है यह असर?

ओमप्रकाश राजभर ने शुक्रवार को अपने ट्वीट में लिखा, “भाजपा डूबती हुई नैया है, जिसको इनके रथ पर सवार होना है हो जाये पर हम सवार नहीं होंगे। जब चुनाव नजदीक आता है तब इनको पिछड़ो की याद आती है। जब मुख्यमंत्री बनाना होता है तो बाहर से लाकर बना देते हैं। हम जिन मुद्दों को लेकर समझौता किये थे, साढ़े चार साल बीत गया, एक भी काम पूरा नहीं हुआ।”

Read This: भाजपा 2022 चुनाव में सरकार बचाने में जुटी, जनता खुद कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार रहे

उन्होंने आगे लिखा, “उप्र में शिक्षक भर्ती में पिछड़ों का हक लुटा, पिछड़ों को हिस्सेदारी न देने वाली भाजपा किस मुंह से पिछड़ों के बीच में वोट मांगने आएंगी? इनको सिर्फ वोट के लिए पिछड़ा याद आते है। हमने भागीदारी संकल्प मोर्चा बनाया है जो भी उप्र में भाजपा को हराना चाहते हैं, हम उनसे गठबंधन करने को तैयार है।”

Read This: यूपी के कद्दावर नेता आजम खान की कैसी है तबीयत ?

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के इस बयान से सपा, कांग्रेस, बसपा जैसे गैर भाजपा संगठन से अगले विधानसभा चुनाव तक गठबंधन होने के संकेत साफ छलकते हैं।

ज्ञात हो कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कल अचानक दो दिन के लिए दिल्ली पहुंचने के साथ ही यूपी के राजनीतिक गलियारों में अटलकों का बाजार गर्म हो गया।

Read This: कोरोना महामारी के दौरान मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वसूला 2.74 लाख करोड़ का टैक्स

भाजपा के प्रदेश संगठन में बदलाव के साथ ही यूपी सरकार के मंत्रिमंडल में फेरबदल की सुगबुगाहट चल रही है। लिहाजा उनका यह दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

अपना दल (एस) की अध्यक्ष और सांसद अनुप्रिया पटेल ने भी गृहमंत्री शाह से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद से एक बार फिर राजनीतिक गलियारे में चर्चाएं शुरू हो गई हैं कि अनुप्रिया मोदी कैबिनेट में वापस शामिल हो सकती हैं।

Read This: मस्जिद ढहाने वाले अधिकारी का हुआ प्रमोशन, सामाजिक संगठनों ने उठाये योगी सरकार पर सवाल

सूत्रों की मानें तो अनुप्रिया ने केंद्र के साथ उत्तर प्रदेश में भी संभावित मंत्रिमंडल विस्तार में अपना दल के प्रतिनिधित्व को लेकर अमित शाह से बात की।

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष और प्रदेश के निगम और आयोग में पार्टी नेताओं को शामिल करने के लिए कहा।

वो महिला जिसने एक साथ 10 बच्चों को जन्म दिया : Gosiami Thamara Sithole
Watch this video on YouTube.