व्हाट्सएप जासूसी कांड में प्रियंका गांधी का फोन भी हुआ था हैक: कांग्रेस

व्हाट्सएप जासूसी कांड में प्रियंका गांधी का फोन भी हुआ था हैक: कांग्रेस Priyanka Gandhi phone was also hacked in WhatsApp spying case

नई दिल्ली: कांग्रेस ने रविवार को दावा करते हुए कहा कि पार्टी की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को व्हाट्सएप (Whatsapp) से एक मैसेज मिला है, जिसमें बताया गया है कि उनके फोन (Phone) के भी हैक (Hack) होने का शक है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने रविवार को कहा है कि व्हाट्सएप ने उन सभी लोगों को मेसेज भेजा है जिनके फोन हैक किए गए थे। सुरजेवाला ने कहा कि ऐसा एक मेसेज प्रियंका गांधी वाड्रा के पास भी आया है। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को व्हाट्सएप (Whatsapp) का हैक (Hack) मैसेज कब मिला।

सुरजेवाला ने आरोप लगाते हुए कहा की भाजपा सरकार और उसकी एजेंसिया गैरकानूनी और असंवैधानिक तौर से इजरायली कंपनी एनएसओ का पेगासस स्पाइवेयर यूज करके लोगों के मोबाइल को हैक करवा रही है।

उन्होंने कहा कि लोग भाजपा को अब ‘भारतीय जासूसी पार्टी’ कह कर बुला रहे हैं। सुरजेवाला ने आरोप लगाया की पेगासस स्पाइवेयर सिर्फ और सिर्फ सरकारों को ही बेचा जा सकता है। भारतीय जनता पार्टी को पत्रकारों, नेताओं और ऐक्टिविस्टों की जासूसी के बारे में पहले से ही पूरी जानकारी थी।

कांग्रेस पार्टी व्हाट्सएप जासूसी कांड (Whatsapp Spying Case) को लेकर भाजपा सरकार पर लगातार हमले कर रही है। कांग्रेस सीधे तौर पर जासूसी कांड में भाजपा के शामिल होने की बात कह रही है। मोदी सरकार पर पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और राजनीतिज्ञों की जासूसी कराने का आरोप लगाने का कोई मौका कांग्रेस नहीं छोड़ रही।

गौरतलब है की फेसबुक ने भाजपा को अप्रैल-मई 2019 में ही इस कैकिंग की घटना की जानकारी दे दी थी। इससे पहले शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी व्हाट्सएप जासूसी कांड के मुद्दे मोदी सरकार पर सीधा निशाना साधा।

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और राजनीतिज्ञों की जासूसी कराना गैरकानूनी और शर्मनाक है।

पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक में सोनिया गांधी ने 5 से 15 नवंबर तक भाजपा के खिलाफ होने वाली देशव्यापी आंदोलन में व्हाट्सएप जासूसी कांड के मुद्दे को उठाने की भी चर्चा की।

the gandhigiri, whatsapp news broadcast

the gandhigiri app download, thegandhigiri  
Dipak Pandey is freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India. He is native of Allahabad district. He has worked with many reputed news channels and digital media platform. Contact him with email : dp362031@gmail.com, or mobile : 9125516663.