नंबर है तो BJP क्यों नहीं बनाती सरकार..? हम सदन में साबित करेंगे बहुमत- शिवसेना

शिवसेना नेता संजय राउत ने बीजेपी पर बोला हमला, Shiv Sena leader Sanjay Raut attacked BJP

मुंबई: शिवसेना नेता संजय राउत ने बीजेपी पर और सख्ती दिखते हुए कहा है कि ‘नंबर है तो क्यों नहीं बनाते सरकार’? उन्होंने कहा, “हमारे पास अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए संख्याएं हैं।”

जब से महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का परिणाम आया उस दिन से लेकर आज तक भाजपा और शिवसेना में महाराष्ट्र मुख्यमंत्री पद को लेकर तनातनी चल रही है।

इस बीच आज भाजपा ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से जाकर मुलाकात की और इस मुलाकात के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने भाजपा पर सरकार बनाने को लेकर तंज कसा है और खुली चुनौती भी दी है।

गवर्नर से मिलने के बाद बीजेपी नेताओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस के जवाब में राउत ने कहा कि बीजेपी यदि सरकार नहीं बना रही है तो साफ है कि उसके पास बहुमत नहीं है। वे राष्ट्रपति शासन लगाने की मंशा रखते हैं।

उन्होंने कहा कि, यदि वे सरकार नहीं बना पा रहे हैं तो फिर बताएं कि उनके पास बहुमत नहीं है। यदि वे राज्यपाल से मिलकर आए हैं तो उन्हें 145 विधायकों की सूची उन्हें सौंपनी चाहिए थी।

राउत ने कहा, “पार्टी विधायकों साफ़ कर दिया है कि हमारी मांग अब भी बदली नहीं है। यही नहीं बीजेपी को चुनौती देते हुए उन्होंने कहा कि, “हमारे साथ ब्लैकमेलिंग नहीं चलेगी।”

राउत ने कहा कि जब बीजेपी गवर्नर के पास गई तो फिर सरकार गठन का दावा क्यों नहीं पेश किया। ठाकरे फैमिली के वफादार माने जाने वाले राउत ने कहा कि, “हम अब भी सीएम की मांग पर कायम हैं। सरकार में शिवसेना का मुख्यमंत्री होना चाहिए।”

बीजेपी पर संविधान के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए राउत ने कहा, “संविधान का पेंच नहीं चलेगा। हमें भी संविधान मालूम है और हम उसके दायरे में रहते हुए राज्य में शिवसेना का सीएम बनाएंगे। सरकार बनाने का दावा बीजेपी को पेश करना चाहिए। बार-बार उनके नेता कहते हैं कि सीएम बीजेपी का होगा।”

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा की महाराष्ट्र के ऊपर राष्ट्रपति शासन जबर्दस्ती थोपा जा रहा है। यह राज्य की जनता का सरासर अपमान है। बीजेपी जनता को साफ बताएं कि सरकार नहीं बना सकते हैं और विपक्ष में बैठेंगे।

उन्होंने कहा कि, “बीजेपी राष्ट्रपति शासन बनाने के हालात पैदा कर रही है। यह संविधान बनाने वाले बाबा साहेब भीमराव आबंडेकर का अपमान है। आप राज्यपाल से मिलकर आए हैं। उन्हें 145 विधायकों की लिस्ट सौंपनी चाहिए थी।”

उन्होंने कहा कि मीटिंग में उद्धव ठाकरे ने विधायकों से पूछा कि, “क्या जो हम कर रहे हैं, वह गलत है?” इस पर विधायक ने कहा, “आप जो कर रहे हैं, वह एकदम सही है।”

उन्होंने कहा कि सभी विधायकों ने उद्धव ठाकरे को सरकार गठन के फैसले के लिए अधिकृत किया है। उनकी ओर से लिया गया फैसला आखिरी होगा।

विधायकों को होटल में रखने को लेकर उन्होंने कहा, “हमें बीजेपी की ओर से तोड़े जाने का डर नहीं है। नए विधायकों को आवास मुहैया नहीं हुए हैं। इसलिए उन्हें रखने की व्यवस्था पार्टी ने की है।”

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के लोग शिवसेना की सरकार बनने की अपेक्षा कर रहे हैं। राज्य को जल्द से जल्द सरकार मिलनी चाहिए। शिवसेना का सीएम होना चाहिए।

यह भी पढ़ें: बीजेपी ने खेला दांव, शिवसेना हुई झट से तैयार, अब महाराष्ट्र में भाजपा सरकार

the gandhigiri, whatsapp news broadcast

the gandhigiri app download, thegandhigiri  
Dipak Pandey is freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India. He is native of Allahabad district. He has worked with many reputed news channels and digital media platform. Contact him with email : dp362031@gmail.com, or mobile : 9125516663.