कोरोना संकट: ओवैसी हिंदू बस्ती में और राजा सिंह मुस्लिम बस्ती में कर रहे कुछ ऐसा काम कि जानकार आप भी चौंक जायेंगे

hyderabad-lockdown-akbarudding-owaisi-and-raja-singh-bjp-mla

हैदराबाद: एआईएमआईएम विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी और बीजेपी विधायक राजा सिंह अपनी छवि के उलट लोगों की मदद करते नजर आए। सिंह मस्जिद में मुस्लिम समुदाय को राशन बांटते नजर आए तो छोटे ओवैसी ने हिंदू समुदाय की बस्तियों में राहत पहुंचाने का काम किया। कोरोना महामारी से पैदा हुए महासंकट की इस घड़ी में दोनों को धर्म और राजनीति से आगे बढ़ कर सोचने पर मजबूर कर दिया। हैदराबाद में दोनों के समाजसेवी कार्य की काफी तारीफ हो रही है।

राजा सिंह और अकबरुद्दीन ओवैसी दोनों का क्षेत्र है हैदराबाद। सिंह अपने क्षेत्र की 6 मस्जिदों में रोज भोजन पंहुचा रहे हैं। वहीं, ओवैसी अपने क्षेत्र के हिंदू बस्तियों में राशन किट बांट रहे।

हैदराबाद की सियासत में मुस्लिम चेहरा माने जाने अकबरुद्दीन ओवैसी और हिंदुत्व का फेस बने राजा सिंह अपने विवादित बयानों को के चलते तेलंगाना से लेकर देश भर में अकसर चर्चा के केंद्र में रहते हैं ये दोनों नेता अपने-अपने धर्म विशेष की राजनीति करते हैं, लेकिन को’रोना संकट की महामारी के दौरान दोनों अपने छवि के उलट लोगों के मदद करते नजर आए. राज सिंह मस्जिद में मुस्लिम समुदाय को राशन बांटते नजर आए तो छोटे ओवैसी हिंदू समुदाय की बस्तियों में राहत पहुंचाने का काम किया।

बता दें कि अकबरुद्दीन ओवैसी चंद्रयान गुट्टा सीट से विधायक हैं तो बीजेपी के राजा सिंह गोशामहल क्षेत्र से विधायक हैं, जो पुराने हैदराबाद इलाके में आता है. पुराना हैदराबाद अपनी बदहाली और गरीबी के लिए जाना जाता है. ऐसे में को’रोना वायरस से निपटन के चलते 22 मार्च को तेलंगाना में लॉकडाउन लगाया गया तो पुराने हैदराबाद इलाके में गरीब और मजदूरों के सामने खाने-पीने की किल्लत का संकट खड़ा हो गया था।

विधायक राजा सिंह और अकबरुद्दीन ओवैसी जिन्हें एक दूसरे समुदाय खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के लिए जाना जाता है, इस संकट की घड़ी में गरीब-मजदूर और जरूरतमंद के साथ वो खड़े होकर हिंदू और मुसलमानों के बीच शांति और सद्भाव का संदेश देते नजर आए।

राजा सिंह का दावा है कि 26 मार्च से वो हर रोज अपनी विधानसभा क्षेत्र में साढ़े तीन हजार लोगों को दोनों टाइम भोजन वितरिक कर रहे हैं. इसके लिए उन्होंने अपने घर के सामने नगर निगम के ग्राउड में भोजन बनाने और पैकिंग करने के लिए टेंट लगा रखा है और 50 कार्यकर्ताओं की एक टीम भी बना रखी है, जो लोगों के बीच भोजन पहुंचाने का काम करती है. साथ ही राजा सिंह ने दावा किया है आपातकाल सेवा के लिए अपनी तीन फोर व्हीलर गाड़ियां ड्राइवर के साथ लगा रखी है, जिसके जरिए लोगों को अस्पताल पहुंचने और लाने की सेवा की जा रही है ।

अकबरुद्दीन ओवैसी अपने भोषणों और विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं, लेकिन कोरोना काल में गरीबों के हमदर्द बनकर उभरे हैं. अकबरुद्दीन की ओर से दावा किया गया है कि उन्होंने अपने चंद्रयान गुट्टा क्षेत्र में 80 हजार परिवारों तक राशन किट पहुंचाने का काम किया है. इसके अलावा अपने क्षेत्र से अलग 30 हजार लोगों को राशन किट देकर राहत पहुंचाने का काम किया है. अपने विधानसभा क्षेत्र के 5 हजार लोगों को 19 अप्रैल से लेकर अभी तक हर रोज भोजन के पैकेट उपलब्ध कराए हैं, जिनमें हिंदू और मुस्लिम सभी समुदाय के लोग शामिल हैं. इसके अलावा अपने क्षेत्र के हॉटस्पाल इलाके में राशन के साथ-साथ सब्जियां भी पहुंचाने का काम किया है।

अकबरुद्दीन ओवैसी की ओर जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री के तौर पर वितरित की जा रही राशन किट में चावल, दाल, इमली, खाद्य तेल और अन्य सामान शामिल हैं और पिछले दो दिनों से पार्टी कार्यकर्ता घर-घर जाकर ये सामान जरूरतमंद लोगों में बांट रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान कोई भी जरूरतमंद परिवार बगैर राशन के न रहे. छोटे ओवैसी हिंदू बस्तियों में भी जाकर राशन बांटते नजर आए हैं. उनका कहना है कि भूख का कोई धर्म नही होता और हम जरूरतमंद के दरवाजे तक राशन पहुंचाने के काम कर रहे हैं।

अकबरुद्दीन ने अपने विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले 6 पुलिस स्टेशनों में 200 मास्क और 10 लीटर सैनिटाइजर पहुंचाने का का किया है. इसके अलावा सोशल मीडिया रिपोर्टर, पत्रकार और स्टींगर सहित करीब 350 लोगों को राशन किट के साथ-साथ 1 हजार रुपये की आर्थिक मदद भी देना का दावा किया है. AIMIM की ओर से दावा किया गया है कि अकबरुद्दीन ओवैसी ने खुद हिंदू-मुस्लिम दोनों बस्तियों में लोगों के बीच जाकर राशन किट वितरित किया है।

राजा सिंह ने अपने विधानसभा क्षेत्र के मंगलाघाट में मस्जिद का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने मस्जिद के मुअज्जिन और इमाम को भोजन का पैकेट वितरित किया. साथ ही मस्जिद के इमाम से मुस्लिम समुदाय सहित ऐसे लोगों की एक सूची बनाने का आग्रह किया, जिन्हें भोजन और राशन की जरूरत है. राजा सिंह ने बताया कि हम अपने विधानसभा की 6 मस्जिदों में हर रोज दो टाइम भोजन के पैकेट पहुंचाने का काम कर रहे हैं. इसके अलावा अलग-अलग अल्पसंख्यक बस्तियों में भी जाकर हमने भोजन वितरित किया है।

(आज तक से साभार)

यह भी देखें

कोरोना संकट से लड़ने के लिए वर्ल्ड बैंक देगा भारत को 1 बिलियन डॉलर

कोश्यारी अगर पाक हैं तो किस विशेष योजना के तहत सेना के हेलीकॉप्टर से मॉडल जैनी को दून पहुंचाया गया?

  

क्या आपको यह खबर पसंद आई?

तो लाइक कर के हमें भी बतायें

       ----------------------------------------------------------  
हम आपको इस खबर से जुड़ी ताजा अप्डेट्स भेजते रहेंगे
   
Asif Khan works as freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India.. He is native of Gorakhpur district. Asif Khan has worked with former Nav Bharat Times special correspondent Mr. Vijay Dixit, worked as video journalist in IBC24 news from Lucknow, worked with 4tv bureau chief Mr. Ghanshyam Chaurasiya, worked with special correspondent of Jan Sandesh Times Capt. Tapan Dixit. He has worked as special correspondent in The Dailygraph news. Contact with him via mail asifkhan2.127@gmail.com or call at +91-9389067047