इस दुर्गा पूजा पंडाल में गूंजी ’अल्लाह हु अकबर’ की आवाज

नवरात्रि, दुर्गा पूजा, अजान, नवरात्री, दशहरा, पश्चिम बंगाल, नवरात्री 2019, कोलकाता, अल्लाह हु अकबर, Dussehra, Durga Pooja, Happy Dussehra, Ayudha Pooja 2019, Kolkata, Durga Pooja with Azan, Pooja with Ajan

दशहरा (Dussehra) और नवरात्रि (Navratri) के शुभ अवसर पर जगह जगह दुर्गा पूजा पंडाल सजाये जाते हैं। जहां हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पूजा-अर्चना होती है। लेकिन इस बार हिन्दू-मुस्लिम-ईसाई सभी धर्मों को जोड़ कर एक पंडाल ऐसा सजा जहां पूजा भी की गई और ‘अल्लाह हु अकबर’ (अजान) भी दी गई।

दुर्गा पूजा, अजान, नवरात्री, दशहरा, पश्चिम बंगाल, नवरात्री 2019, कोलकाता, अल्लाह हु अकबर, Dussehra, Durga Pooja, Happy Dussehra, Ayudha Pooja 2019, Kolkata, Durga Pooja with Azan, Pooja with Ajan

 

 

दुर्गा पूजा में सर्वधर्म समान का सन्देश

इसके पीछे मकसद था सांप्रदायिक सदभावना और अनेकता में एकता का दृष्य दर्शाना। लेकिन कुछ लोगों को यह बात न गवार गुजरी और आयोजकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया।

पश्चिम बंगाल के कोलकता में मंदिर, मस्जिद और चर्च माॅडल से सजा कर ‘सेक्युलर’ दुर्गा पूजा पंडाल बनाया गया। जहां, घंटियों के साथ अजान की भी आवाज सुनाई दी।

आयोजनकर्ताओं में से एक बेलियाघाटा 33 पाली के क्लब सचिव परिमल देव ने बताया कि, उनका मकसद देश में सांप्रदायिक सदभावना और आपस में भाईचारा बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि, ‘मंदिर, मस्जिद और चर्च बना कर हम देश को बताना चाहते हैं कि हम सब एक हैं, अकेले नहीं।’

दुर्गा पूजा, अजान, नवरात्री, दशहरा, पश्चिम बंगाल, नवरात्री 2019, कोलकाता, अल्लाह हु अकबर, Dussehra, Durga Pooja, Happy Dussehra, Ayudha Pooja 2019, Kolkata, Durga Pooja with Azan, Pooja with Ajan

लोग भले ही भावनात्मक रूप से देशवासियों के बीच धार्मिक उन्माद को खत्म करने की अनोखी कोशिशें करते हो लेकिन कुछ लोगों की इसके चलते भावना आहत हो ही जाती है।

दुर्गा पूजा पंडाल में अजान की आवाज को लेकर एक स्थानीय अधिवक्ता सांतनु सिन्हा को यह बात ठीक नहीं लगी। उन्होंने इस बात को लेकर फूलबागान पुलिस स्टेशन में स्थानीय टीएमसी नेता और आयोजकों समेत 7 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

सिन्हा का आरोप है कि हिन्दू धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए जानबूझ कर ऐसा किया गया है। दुर्गा पूजा पंडाल में अजान का आॅडियो चलाना बेहुदा मजाक है। अशांति और शत्रुता फैलाने के लिए ऐसा किया गया है।

वहीं, आयोजनकर्ताओं ने कहा कि सिन्हा जैसे लोग ऐसे कर्यक्रमों को लेकर बेवजह बवाल मचाते रहते हैं। उन पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें: मुस्लिम महिला सांसद नुसरत जहां के इस काम पर फिर भड़के मौलाना

अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

the gandhigiri app download, thegandhigiri  
Dipak Pandey is freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India. He is native of Allahabad district. He has worked with many reputed news channels and digital media platform. Contact him with email : dp362031@gmail.com, or mobile : 9125516663.

2 Comments

  1. Pingback: Dussehra: Durga Pooja with 'Allah Hu Akbar' echoed in this Pandal

  2. Pingback: योगी राज में यहां धड़ल्ले से हो रहा है धर्मांतरण का खेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *