योगी राज में यहां धड़ल्ले से हो रहा है धर्मांतरण का खेल

धर्म परिवर्तन, बहराइच, धर्मांतरण, संतोष जायसवाल पास्टर, पादरी, पादरी संतोष जायसवाल, पांडेपुरवा मजरे, थाना हरदी, Bishop Santosh Jaiswal, Bahraich, Religion Change, Conerting Religion in Bahraich, Hardi, Pardeypurva Majre, Paster Santosh Jaiswal

योगी सरकार में धर्मांतरण की भी कही गुंजाइश हो सकती है, ऐसा सोचना भी अटपटा लगता है। लेकिन बहराइच के थाना हरदी इलाके में यह सोच सच में बदल जाती है। यहां हजारों की संख्या में लोगों का झाड़फूंक और इलाज के नाम पर मजमा लग रहा है। जहां इलाज के नाम पर धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक इसी गांव के रहने वाले संतोष जायसवाल (Bishop Santosh Jaiswal) ने कुछ समय पहले धर्म परिवर्तन कर ईसाई धर्म अपना लिया था. बाद में वह पास्टर (पादरी) भी बन गया. अब संतोष और उसका परिवार हर सप्ताह शुक्रवार, रविवार के दिन हज़ारों लोगों को प्रभु ईसु की प्रार्थना कराता है। लोगो को चर्च में आने और चर्च की शिक्षाएं ग्रहण करने पर ही स्वास्थ लाभ होने की बात कहकर उन्हें धर्मांतरण के लिए प्रेरित करता है।

बहराइच (Bahraich) के पांडेपुरवा मजरे में हर सप्ताह झाड़फूंक के बहाने करीब दस हजार लोगों को धर्मांतरण का पाठ पढ़ाया जा रहा है। ईसाई मिशनरी से जुड़े लोग बाकायदा पंपफ्लेट और पोस्टर के जरिये प्रचार कर लोगों को ईसाई धर्म अपनाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

गांव में बाहर से आने वाले लोगों के साथ ही स्थानीय लोगों को भी अमेरिकी चर्च से अप्रूव धार्मिक किताबें (बाइबिल आदि) निशुल्क बांटा जा रहा है। वहां आने वाले ईसाई धर्म के अलावा हज़ारों लोगों को विशेषकर हिन्दू समुदाय से जुड़े लोगों को उनके देवी देवताओं को चांडाल बताकर ना पूजने की शिक्षा दी जाती है।

इससे पहले पादरी संतोष जायसवाल अपने गुरु रामप्रताप के साथ मिलकर धर्मांतरण काम करते थे। अब दोनों अलग अलग भारी संख्या में भीड़ जुटाकर यह काम कर रहे हैं। धर्मांतरण कार्य में पादरी संतोष की पत्नी भी उनका साथ देती है।

संतोष जायसवाल के अस्थाई चर्च को बांस-बल्ली के सहारे बैरिकेटिंग कर बनाना गया है। इसके ठीक सामने रहने वाले रामसेवक और गुरुप्रसाद का कहना है कि, ये लोग ईसाई धर्म स्वीकार करने के बाद अपने घरों में पहले से मौजूद देवी देवताओं की मूर्तियों को फेक चुके हैं। ऐसा ही करने के लिए दूसरों को भी प्रेरित करते है।

उनका कहना है कि, यह कार्यक्रम बिना सरकारी परमिशन के कई महीनों से बे रोक टोक चल रहा है। स्थानीय पुलिस को भी हजारों की संख्या में लग रहे मजमें का पता भी नहीं है।

यह भी पढ़ें: इस दुर्गा पूजा पंडाल में गूंजी ’अल्लाह हु अकबर’ की आवाज

  

क्या आपको यह खबर पसंद आई?

तो लाइक कर के हमें भी बतायें

       ----------------------------------------------------------  
हम आपको इस खबर से जुड़ी ताजा अप्डेट्स भेजते रहेंगे
   
Mohammad Amir is freelancer reporter from Bahraich district of Uttar Pradesh state in India. He is working in press line at-least 7 years. He has worked for number of news channels. Contact with him via call at +91-9807886999 or mail to mediaonlyup@gmail.com