होम Sports | खेल AUS v IND: पुरुष टेस्ट मैच में पहली बार महिला अंपायर, जानिए...

AUS v IND: पुरुष टेस्ट मैच में पहली बार महिला अंपायर, जानिए क्लेयर पोलोसाक के बारे में

475
aus-v-ind-female-umpire-for-the-first-time-in-a-male-test-match-know-about-claire-polosak
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

सिडनी: क्लेयर पोलोसाक (Claire Polosak) भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जाने वाले पुरुषों के टेस्ट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला मैच अधिकारी (Female Umpire) बन गई हैं।

ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स की 32 साल की पोलोसाक मैच में चौथे अंपायर की भूमिका में हैं।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की श्रृंखला के तीसरे मैच में 2 पूर्व तेज गेंदबाज पॉल रिफेल और पॉल विल्सन मैदानी अंपायर की भूमिका निभाएंगे।

वहीं, ब्रूस ऑक्सेनफोर्ड तीसरे (टेलीविजन) अंपायर होंगे। डेविड बून मैच रेफरी होंगे।

टेस्ट मैचों के लिए आईसीसी के नियमों के अनुसार, चौथे अंपायर को घरेलू क्रिकेट बोर्ड द्वारा अपने आईसीसी अंपायरों के अंतरराष्ट्रीय पैनल में से नियुक्त किया जाता है।

क्लेयर पोलोसाक (Claire Polosak) इससे पहले पुरुष एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर (Female Umpire) बनने की उपलब्धि हासिल कर चुकी हैं।

पोलोसाक ने 2019 में नामीबिया और ओमान के बीच विश्व क्रिकेट लीग डिवीजन दो के मैच में अंपायरिंग की थी।

इतना ही नहीं क्लेयर पोलोसाक 2017 में ऑस्ट्रेलिया में पुरुषों के घरेलू लिस्ट ए मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला भी हैं।

चौथा अंपायर का काम मैदान में नई गेंद लाना, अंपायरों के लिए ड्रिंक ले जाना, लंच और चाय के दौरान पिच की देखभाल और लाईट मीटर से रोशनी की जांच करने जैसी चीजें शामिल हैं।

किसी परिस्थिति में मैदानी अंपायर के हटने के बाद तीसरे अंपायर को मैदान में सेवाएं देनी होती हैं जबकि चौथे अंपायर को टेलीविजन अंपायर की भूमिका निभानी होती है।

the-gandhigiri-telegram-channel