Home Rajya Samachar जिलाधिकारी सविन बंसल ने शुरू की रोटा वायरस मुक्त जनपद बनाने की...

जिलाधिकारी सविन बंसल ने शुरू की रोटा वायरस मुक्त जनपद बनाने की मुहीम

68
जिलाधिकारी सविन बंसल, नैनीताल, कृमि मुक्ति दिवस, रोटा वायरस वैक्सीन, मेजर राजेश अधिकारी राजकीय इंटर कॉलेज, dm savin bansal, nainital, rotavirus, rotavirus vaccine, rotavirus india, rotavirus vaccine india, rotavirus vaccine prevent, rotavirus vaccine route

thegandhigiri-news-app-may-2020

नैनीताल: जिलाधिकारी सविन बंसल (Savin Bansal) ने कृमि मुक्ति दिवस एवं रोटा वायरस वैक्सीन (Rotavirus Vaccine) का शुभारंभ मेजर राजेश अधिकारी राजकीय इंटर कॉलेज से किया। कृमि मुक्ति दिवस के तहत मुकुल, सचिन, साहिल, मोमिन, विशाल तिवारी, कार्तिक पंत को एल्बेंडाजोल दवा खिलाकर व दो माह के बच्चों भव्य, अफवान, शिवांश, गौरांश, दिव्यांश को रोटा वायरस ड्राॅप पिलाकर अभियान का शुभारंभ किया।

जिलाधिकारी सविन बंसल ने कहा कि सभी नवजात बच्चों को रोटा ड्राॅप समय से पिलायी जाये, साथ ही सभी चिकित्साधिकारियों, एएनएम, आशाओं से कहा कि प्रत्येक एक वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को अनिवार्य रूप से कृमि मुक्ति दवा अल्बेंडाजोल अनिवार्य रूप से खिलायी जाये और कोई भी बच्चा छूटना नहीं चाहिए। आगे कहा कि 1 से 5 वर्ष तक के बच्चों को आंगनबाड़ी में दवा खिलाई जाए तथा 6 से 19 वर्ष तक के बच्चों को स्कूल, काॅलेज में जाकर चिकित्सा विभाग के अधिकारियों व शिक्षकों के समक्ष खिलायी जाये।

जिलाधिकारी सविन बंसल, नैनीताल, कृमि मुक्ति दिवस, रोटा वायरस वैक्सीन, मेजर राजेश अधिकारी राजकीय इंटर कॉलेज, dm savin bansal, nainital, rotavirus, rotavirus vaccine, rotavirus india, rotavirus vaccine india, rotavirus vaccine prevent, rotavirus vaccine route

जिलाधिकारी सविन बंसल (Savin Bansal) ने कहा कि दवा सुरक्षित है, दवा खाने के बाद यदि जी मचलता है या उल्टी की संभावना होती है तो घबराने की जरूरज नहीं है। दवा नाश्ता करने के उपरान्त ही खिलाए, खाली पेट कतई न खिलाए। उन्होंने सभी अभिभावकों से अपील करते हुए कहा कि रोटावायरस वैक्सीन लाइव वैक्सीन है, वैक्सीन की खुराक 5 बूंदों की है जो बच्चों को नियमित टीकाकरण समय सारणी के अनुसार जन्म के 6, 10 और 14 सप्ताह में अवश्य पिलायें।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ भारती राणा द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में कृमि मुक्ति दिवस दिनांक 8 अगस्त 2019 को स्कूलों आंगनबाड़ी केंद्रों निजी स्कूलों में लगभग 350000 बच्चों को एल्बेंडाजोल की दवा खिलाई जाएगी जो बच्चे 8 अगस्त को दवा खाने से छूट जाएंगे उनको मोप-अप राउंड 16 अगस्त को दवा खिलाई जाएगी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि एल्बेंडाजोल पूरी तरह से सुरक्षित दवा है इससे किसी भी प्रकार घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि जनपद में रिस्पांस टीम का गठन किया गया है किसी भी विद्यालय आंगनवाड़ी केंद्र में अगर बच्चों को कोई तकलीफ होती है तो तुरंत मेडिकल सेवा प्रदान की जाएगी। जनपद में रोटावायरस वैक्सीन के तहत 16 हजार 800 बच्चों को वैक्सीन पिलाई जानी है।

सीएमओ ने कहा कि रोटावायरस एक अत्यधिक संक्रामक वायरस है, आमतौर पर रोटावायरस (Rotavirus) एक बच्चे से दूसरे बच्चे में दूषित पानी, दूषित खान एवं दूषित हाथों के संपर्क में आने से फैलता है। वायरस कई घंटों तक बच्चों के हाथों में और अन्य सख्त सतहों पर लंबे समय तक जीवित रह सकता है।

रोटा वायरस से होने वाले दस्त और अन्य दस्त के लक्षणों में कोई खास अंतर नहीं है रोटावायरस का पूरा निदान बच्चे के मल की जांच प्रयोगशाला परीक्षणों द्वारा कराया जाता है। रोटावायरस टीकाकरण (Rotavirus Vaccine) इसके रोकथाम का अत्यधिक प्रभावी एवं एकमात्र उपाय है। रोटावायरस वैक्सीन बच्चों में दस्त के कारण अस्पताल में भर्ती होने और इसकी वजह से होने वाली मृत्यु संबंधी मामलों में कमी लाने में प्रभावी है।

कार्यक्रम में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ रश्मि पंत, डॉक्टर बालवीर, डॉ अजय शर्मा, मदन मेहरा दीवान बिष्ट, हेम जलाल, दिनेश बोरा, अनूप बमोला, सूरज रावत, दीपक कांडपाल, दीपक आदि उपस्थित रहे।

अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें