प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी पर योगी आदित्यनाथ को अपना वो दिन भी याद करना चाहिए जब सदन में मुंह छुपा कर रोये थें

सोनभद्र हत्या, प्रियंका गांधी गिरफ्तार, योगी आदित्यनाथ, ताजातरीन, उत्तर प्रदेश, हिंदी खबर, हिंदी समाचार, प्रियंका गांधी वाड्रा, डीएम डॉ. हरि ओम, priyanka gandhi arrested in sonbhadra, yogi adityanath

ये 3 फोटो देखीये, एक फोटो आज की है एक 26 जनवरी 2007 की फोटो है।। तब आपको गेस्ट हाउस में रखा जा रहा था, तब आप जेल जाने के लिए जिद कर रहे थे। आज आपकी सरकार है योगी जी तो आपने Priyanka Gandhi Vadra (प्रियंका गांधी वाड्रा) को सोनभद्र में  जिस जगह रखा वहां का बिजली पानी तक बन्द करवा दिया?? आप अपना दिन भुल गये? वो दर्द भुल गये जो दर्द लेकर सदन में आप बोलते हुए फफक कर रो पड़े थे??

आज समझ में आया जब किसी की सरकार होती है तब राजनीती करके भड़काना कितना नुकसानदायक होता है? योगी जी अगर आज आपकी सरकार प्रियंका को लेकर सही कर रही है तो आपको 2007 के लिए सपा सरकार, गोरखपुर की जनता और स्पेशली तत्कालीन जिलाधिकरी #Dr Hari Om (डीएम डॉ. हरि ओम) से माफी मांगनी चाहिये जिसको आप बोरी में भरके फेंकने की धमकी तक दे डाले थे।

पूरा मामला क्या है आपको बताते हैं

गोरखपुर में सम्प्रदायिक तनाव फैला हुआ था और तत्कालीन सांसद योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में धरने करने का ऐलान कर दिया था।

पूरे शहर में कर्फ्यू लगे होने की वजह से तत्कालीन डीएम डॉक्टर हरिओम ने उन्हें गोरखपुर में घुसने से पहले ही रोक दिया था।

लेकिन आदित्यनाथ अपनी जिद पर अड़े गए। जिसके बाद प्रशासन ने आखिरकार उन्हें गिरफ्तार करने का फैसला किया।

इस बारे में खुद तत्कालीन डीएम डॉ. हरिओम ने प्रेस को बताया था कि वो सांसद योगी को गिरफ्तार नहीं करना चाहते थे लेकिन योगी के दबाव के कारण ही उन्हें गिरफ्तार करना पड़ा।

यह भी पढ़ें: किसानों ने कहा, ‘योगी जी ! बिजली के बढ़े दाम वापस लो, नहीं तो मूत कर बहा देंगे’

हरिओम ने तो ये भी जानकारी दी कि वो गिरफ्तारी के बाद योगी को सर्किट हाउस में ही रखना चाहते थे जहां आमतौर पर सांसदों या विधायकों को गिरफ्तारी के बाद रखा जाता है।

लेकिन हरिओम का कहना है कि योगी ने ही उनसे जिद की कि उन्हें जेल में ही रखा जाए।

जेल से रिहा होने के बाद जब योगी आदित्यनाथ पहली बार संसद पहुंचे तो वो अपनी गिरफ्तारी की बात बताते-बताते फफक कर रो पड़े थे।

आज जब Priyanka Gandhi Vadra (प्रियंका गांधी वाड्रा) सोनभद्र में हुए नरसंहार पर पीड़ित परिवार से मिलने जा रही हैं तो योगी सरकार के हाथ पांव फुल गये हैं और देश की दुसरी बडी पार्टी के महासचिव वो भी एक महिला को गिरफ्तार कर इस भीषण गर्मी में बिजली पानी तक बन्द कर दिया है।।

नोट: यह लेख टीवी पत्रकार घनश्याम चौरसिया (निशांत चौरसिया) के फेसबुक वॉल से लिया गया है. जो उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में हुए हत्या कांड से संबंधित है.


अन्य ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

 

https://www.thegandhigiri.com/modi-government-may-dismiss-bsnl-and-mtnl-employees/

the gandhigiri app download, thegandhigiri  
Asif Khan works as freelancer journalist from Lucknow district of Uttar Pradesh state in India.. He is native of Gorakhpur district. Asif Khan has worked with former Nav Bharat Times special correspondent Mr. Vijay Dixit, worked as video journalist in IBC24 news from Lucknow, worked with 4tv bureau chief Mr. Ghanshyam Chaurasiya, worked with special correspondent of Jan Sandesh Times Capt. Tapan Dixit. He has worked as special correspondent in The Dailygraph news. Contact with him via mail asifkhan2.127@gmail.com or call at +91-9389067047

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *