सोमवार, फ़रवरी 26, 2024
होमUTTAR PRADESH | उत्तर प्रदेशअखिलेश यादव को सैकड़ों महिलाओं ने राखी बांधी

अखिलेश यादव को सैकड़ों महिलाओं ने राखी बांधी

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के लखनऊ स्थित मुख्यालय पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को विभिन्न संगठनों की सैकड़ो महिलाओं ने राखी (Rakhi) बांधी।

पूरे प्रदेश से बड़ी संख्या में आयी महिलाओं और पार्टी कार्यकर्ताओं ने रक्षाबंधन के पर्व पर 2022 में अखिलेश यादव को दोबारा उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प लिया।

प्रदेश मुख्यालय के लोहिया सभागार में उपस्थित आधी आबादी ने एक स्वर से समाजवादी सरकार में अखिलेश द्वारा महिला सुरक्षा और सम्मान की दिशा में लिए गये ऐतिहासिक निर्णयों के प्रति आभार प्रकट किया।



समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महिलाओं को रक्षाबंधन पर्व की बधाई देते हुए उत्तर प्रदेश की तरक्की और खुशहाली की कामना की। उन्होंने बहनों को सुरक्षा एवं सम्मान का भरोसा दिलाया।

अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी महिलाओं को समुचित प्रतिनिधित्व देने के लिए सदैव प्रतिबद्ध है। लोकतंत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए सड़क से सदन तक समाजवादी पार्टी ईमानदारी से उनके अधिकारों के पक्ष में हमेशा खड़ी रही है।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि, “आपसी तालमेल के साथ सभी 2022 में समाजवादी पार्टी की जीत के लिए चुनाव की तैयारी में जुट जायें। भाजपा मतदाताओं को भ्रमित करने की साजिश में लगी है।”

उन्होंने कहा, “भाजपा सरकार में अपहरण, बलात्कार और हत्याओं के कारण महिलाओं का जीना दूभर हो गया है। महिला हिंसा में उत्तर प्रदेश शीर्ष स्थान पर है। सरेराह बहन-बेटियों के साथ छेड़खानी होती है। रक्षाबंधन के दिन भी विचलित करने वाली दुष्कर्म की कई घटनाएं हुई।”

“प्रतापगढ़ में किशोरी का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म किया गया। शाहजहांपुर, रामपुर, बांदा से कई घटनाएं हुई। ‘मिशन शक्ति‘ तले महिलाएं रौंदी जा रही है। खुद मुख्यमंत्री के गोरखपुर जनपद में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। वहां हत्या, लूट, अपहरण की घटनाएं बढ़ी है।”

“महिलाओं, बच्चियों का ऐसा अपमान कभी नहीं हुआ जैसा भाजपा राज में हो रहा है। समाजवादी सरकार में महिला उत्पीड़न की घटनाओं को रोकने के लिए जिस वूमन पावर हेल्पलाइन 1090 की स्थापना समाजवादी सरकार में किया गया था यूपी की भाजपा सरकार ने उसे ध्वस्त कर दिया है। प्रदेश में आतंक का राज है।”

“महिला सुरक्षा का दावा सिर्फ कागजों पर रह गया है। महिला विरोधी भाजपा को उत्तर प्रदेश की माताएं-बहनें सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है। बाईस में बाईसकिल के सत्ता में आने पर ही महिला स्वाभिमान तथा महिलाओं के मान सम्मान को तभी प्रतिष्ठा मिलेगी।”

Desk Publisher
Desk Publisher is a authorized person of The Goandhigiri. He/She re-scrip, edit & publish the post online. Pls, contact thegandhigiri@gmail.com for any issue.
You May Also Like This News
the gandhigiri news app

Latest News Update

Most Popular