Home Social Media Viral कोश्यारी अगर पाक हैं तो किस विशेष योजना के तहत सेना के...

कोश्यारी अगर पाक हैं तो किस विशेष योजना के तहत सेना के हेलीकॉप्टर से मॉडल जैनी को दून पहुंचाया गया?

298

thegandhigiri-news-app-may-2020

देहरादून: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (BS Koshyari) को लेकर एक खबर खूब वायरल हो रही है. इस खबर में यह दावा किया जा रहा है कि मुंबई की एक मॉडल जैनी उर्फ़ जयंती (Mumbai Model Jeannie aka Jayanti) को लॉकडाउन के दौरान सेना के हैलीकॉप्टर के जरिये मुंबई से दिल्ली फिर दिल्ली से सेना की ही कार में दून पहुंचाया गया. जहां घर पहुंच कर उसे होम क्वारंटाइन कर दिया गया.

इस खबर को उत्तराखंड के एक न्यूज़ वेबसाइट “न्यूज़ उत्तराखंड डॉट ओआरजी” (newuttarakhand.org) ने प्रकाशित किया है. इस खबर के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद वेब पोर्टल के विरुद्ध 14 मई को मुंबई के बांद्रा स्थित साइबर क्राइम पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. मामला विवादित होने के बाद पोर्टल से खबर हटा दी गई है. लेकिन केवल इतने से ही इस मामले की गुत्थी नहीं सुलझती. सवाल तो तब भी उठ रहे हैं.

bs-koshyari-and-mumbai-model-jani-alias-jayanti-issues

सोशल मीडिया पर अब लोग यह सवाल उठाने लगे हैं कि यदि कोश्यारी (BS Koshyari) इतने ही पाकसाफ हैं तो सेना के हेलीकॉप्टर और कार से किसी मॉडल (Model Jayanti) को उसके घर तक पहुंचाने के पीछे क्या विशेष योजना रही होगी? लोग पूछ रहे हैं कि किसी वीवीआईपी को भी इस समय यह सुविधा नहीं मिल रही तो एक गुमनाम मॉडल जैनी उर्फ़ जयंती को इतनी बड़ी सुविधा कैसे मिल सकती है? लोगों का कहना है कि इसका जवाब गृहमंत्री या सेना प्रमुख को देना होगा. और यदि कोश्यारी चाहते हैं कि उनके चरित्र पर कोई उंगली न उठाये तो वे स्वयं भी इस सवाल का जवाब दे सकते हैं.

यह भी पढ़ें

उत्तर प्रदेश के औरैया हादसे में 24 मजदूरों की मौत, 36 घायल

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उत्तराखंड से ही पॉलिटिकल कैरियर की शुरुआत की थी. वे उत्तराखंड बीजेपी से एमएलसी, एमएलए, एमपी से लेकर प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री तक रह चुके हैं. वे आरएसएस के एक दिग्गज कार्यकर्ता के रूप में भी जाने जाते हैं.

मॉडल जैनी और कोश्यारी का क्या है पूरा मामला

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के बारे में खबर छापने वाले एक वेब पोर्टल के विरुद्ध मुंबई के बांद्रा स्थित साइबर क्राइम पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। कहा जा रहा है कि खबर फर्जी है। यह वेब पोर्टल उत्तराखंड का है।

राजभवन के सूत्रों के अनुसार वेब पोर्टल ने अपनी खबर में लिखा था कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी (BS Koshyari) ने एक मॉडल एवं अभिनेत्री जैनी उर्फ़ जयंती (Mumbai Model Jeannie aka Jayanti) के लिए विशेष पास की व्यवस्था करवाकर उसे दिल्ली होते हुए देहरादून भिजवाने की व्यवस्था करवाई।

राजभवन के अनुसार खबर में प्रकाशित तथ्य झूठे और भ्रामक थे। जिनका इस्तेमाल राज्यपाल की छवि खराब करने के लिए किया गया। वेब पोर्टल पर यह खबर छपने के बाद महाराष्ट्र में सोशल मीडिया पर भी इसका अच्छा-खासा प्रसार हुआ।

जिसके कारण राजभवन को इस खबर का संज्ञान लेते हुए 14 मई को एफआईआर दर्ज करानी पड़ी है। जैनी उर्फ जयंती नामक उक्त मॉडल को सेना के हेलीकॉप्टर एवं सेना की ही कार का इस्तेमाल करते हुए मुंबई से दिल्ली और फिर दिल्ली से देहरादून भेजा गया। देहरादून पहुंचने के बाद उक्त मॉडल अपने परिवार के साथ होम क्वारंटाइन कर दी गई है।

यह भी पढ़ें

क्या भाजपा को कोरोना से ज़्यादा सरकार गिराने की चिंता है? एमपी के बाद अब महाराष्ट्र की तयारी