Home Vyapar Samachar एमएस धोनी और पीयूष गोयल ने लांच किया ‘टीम कैशलेस इंडिया’ अभियान

एमएस धोनी और पीयूष गोयल ने लांच किया ‘टीम कैशलेस इंडिया’ अभियान

1
0
Team Cashless India, MS Dhoni, Piyush Goyal, MasterCard India, Confederation of All India Traders, CAT

नई दिल्ली: मास्टरकार्ड इंडिया और कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal), पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni), कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल और मास्टरकार्ड के दक्षिण पूर्व एशिया के सह अध्यक्ष आरी सरकार ने बुधवार को नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में ‘टीम कैशलेस इंडिया’ (Team Cashless India) अभियान शुरू की।

व्यापारियों और उपभोक्ताओं के बीच डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए पूरे देश में मास्टरकार्ड और कैट एक साथ मिलकर इसे इस अभियान को चलाएंगे।

कैट और मास्टरकार्ड दोनों की पहल की सराहना करते हुए, पीयूष गोयल ने सशक्त रूप से भारत के सभी प्रमुख संगठनों और कॉरपोरेट्स को सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि, कैट जैसे संगठनों के साथ डिजिटल भुगतान समाधान में भागीदार बने।

पीयूष गोयल ने कहा कि व्यापारियों को जागरूक और उन्हें अपने मौजूदा व्यवसाय प्रारूप में डिजिटल भुगतानों को अपनाने व प्रोत्साहित करने की बहुत आवश्यकता है। डिजिटल भुगतान का अंतिम लाभ व्यापारियों पर निहित है क्योंकि यह उपभोक्ताओं के लिए एकमात्र कनेक्टिंग पॉइंट है।

टीम कैशलेस इंडिया (Team Cashless India) के बारे में धोनी ने क्या कहा

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) ने इस आयोजन में बोलते हुए कहा कि एक सुदृढ़ अर्थव्यवस्था के लिए देश में हर पैसे के खर्च का विवरण होना जरूरी है।

देश में दुकानों के डिजिटलीकरण से व्यापारियों की साख बढ़ेगी और बदले में वे एक आसान तरीके से अधिक औपचारिक वित्त प्राप्त करने के पात्र होंगे।

व्यापारियों के लिए ऋण की पहुंच व्यापार के बेहतर विकास के परिणामस्वरूप होगी और अर्थव्यवस्था में पर्याप्त योगदान देगी।

उन्होंने कहा कि वह खुद को अभियान के साथ जोड़कर खुश हैं और इसके लिए वह लगातार प्रयत्नशील रहेंगे ।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया विजन को पूरा करने के लिए कैट ने मास्टरकार्ड के साथ 2014 में एक डिजिटल भुगतान अभियान शुरू किया था। तब पूरे भारत में लगभग 300 सम्मेलनों का आयोजन किया गया था जिसके परिणामस्वरूप डिजिटल में लगभग 35% व्यापारी शामिल हुए।’

खंडेलवाल ने कहा कि, ‘हम उसी तर्ज पर ‘टीम कैशलेस इंडिया’ (Team Cashless India) अभियान चलाएंगे और मार्च, 2020 तक 50 लाख व्यापारियों द्वारा डिजिटल भुगतान को अपनाने और स्वीकार करने का लक्ष्य रखा है।’

यह भी पढ़ें: भारी छूट देने की होड़ में फंसे अमेज़न और फ्लिपकार्ट, अब केंद्र सरकार देगी जवाब

  

क्या आपको यह खबर पसंद आई?

तो लाइक कर के हमें भी बतायें

       ----------------------------------------------------------  
हम आपको इस खबर से जुड़ी ताजा अप्डेट्स भेजते रहेंगे