Home Duniya Samachar शक्तिशाली ‘बुलबुल’ चक्रवात का उड़ीसा से बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा

शक्तिशाली ‘बुलबुल’ चक्रवात का उड़ीसा से बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा

58
बुलबुल चक्रवात का उड़ीसा से बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा, Bulbul cyclone moving from Orissa to Bangladesh
the-gandhigiri-news-app-may-2020

ढाका: बंगाल की खाड़ी में उठा शक्तिशाली ‘बुलबुल’ चक्रवात ओड़िशा से बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा है। इसे लेकर बांग्‍लादेश सतर्क हो गया है। बंगाल की खाड़ी पर बने दबाव के चलते यह तूफान बांग्‍लादेश के दक्षिणी तट की ओर बढ़ रहा है।

बांग्‍लादेश ने खतरे के मद्देनजर अपनी नौसेना को अलर्ट कर दिया है। नौसेना किसी भी हालात से निपटने के लिए तैयार है। शनिवार सुबह ढाका में मौसम कार्यालय ने सबसे भयंकर तूफान की चेतावनी जारी की है।

आपादा प्रबंधन मंत्री इनामुल हक का कहना है कि 13 तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। यहां के सरकारी कार्यालायों को काम बंद करने का कहा गया है।

इसके अलावा चटगांव सहित देश के मुख्य बंदरगाहों में सभी गतिविधियों को निलंबित कर दिया गया है। व्‍यापारिक लिहाज से यह समुद्री मार्ग बेहद अहम है। लगभग 80 फीसद निर्यात और आयात इन्‍हीं बंदरगाहों से होता है।

एहतियात के तौर पर 50,000 से अधिक स्‍वयंसेवकों को स्‍टैंडबाय पर रखा गया है। मौसम विभाग का अनुमान है कि बंगाल की खाड़ी में उठा यह चक्रवात बांग्‍लादेश के विशाल दक्षिण पश्चिमी और दक्षिणी तट से टकरा सकता है।

सतर्कता के तौर पर मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत दी गई है, जो मछुआरे समुद्र में है उन्हें वापस आ जाने के लिए कहा गया है।

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र बुधवार को पारादीप से 800 किलोमीटर दूर समुद्र में डीप डिप्रेशन में तब्दील होने के बाद छह किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उत्तर-पश्चिम दिशा की तरफ बढ़ रहा था।

उस वक्‍त मौसम विभाग ने दावा किया था कि बुलबुल नामक यह चक्रवात किस जगह पर लैंडफाल करेगा, यह सात नवंबर को स्पष्ट होगा। यह माना जा रहा था कि चक्रवात पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की ओर रुख कर सकता है।

यह भी पढ़ें: काठमांडू: नेपाली विद्यार्थियों ने दूतावास के सामने भारत का नक्शा जलाया

the gandhigiri, whatsapp news broadcast