Home Duniya Samachar पाक के समर्थन में चीन ने कहा, ‘FATF में कुछ देशों का...

पाक के समर्थन में चीन ने कहा, ‘FATF में कुछ देशों का पाकिस्तान के खिलाफ राजनैतिक एजेंडा’

61
पाकिस्तान,चीन, राजनीतिक एजेंडा, चीन और पाकिस्तान, पाकिस्तान और चीन, याओ वेन, फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स FATF, China and Pakistan, Pakistan and China, Yao Wen
the-gandhigiri-news-app-may-2020

बीजिंग: पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की काली सूची में जाने से बचाने वाले चीन ने एक बार फिर खुलकर पाकिस्तान के पक्ष में दलीलें दी हैं। चीन का मानना है कि कुछ देश FATF में पाकिस्तान के खिलाफ अपने राजनैतिक एजेंडे के तहत उसके विरोधी बने हुए हैं।

चीन के विदेश विभाग में एशियाई मामलों की नीति निर्माता शाखा के उप महानिदेशक याओ वेन (Yao Wen) ने बातचीत के दौरान यह बात कही।

रिपोर्ट के मुताबिक, येन ने कहा कि कुछ देश अपने राजनैतिक एजेंडे के तहत पाकिस्तान को काली सूची में डालने की पैरवी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि, ‘चीन नहीं चाहता कि कोई भी देश FATF का राजनीतिकरण करे। कुछ देश हैं जो चाहते हैं कि पाकिस्तान को काली सूची में डाल दिया जाए। हमारा मानना है कि उनकी अपनी राजनैतिक योजनाएं हैं। यह वह बात है, चीन जिसके खिलाफ है। चीन न्याय के पक्ष में है।’

याओ वेन (Yao Wen) ने कहा कि चीन, पाकिस्तान के साथ है और उसने पाकिस्तान को काली सूची में नहीं जाने दिया। इस संदर्भ में स्पष्ट रूप से भारत का नाम लेते हुए उन्होंने कहा, ‘हमने अमेरिका और भारत को साफ कर दिया कि हम ऐसा नहीं कर सकते। ऐसा करना FATF के उद्देश्य के दायरे से बाहर जाना है।’

उन्होंने कहा कि फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) किसी देश को काली सूची में डालने के लिए नहीं बल्कि आतंक वित्तपोषण के खिलाफ कार्रवाई में उसकी मदद करने के लिए है।

वेन ने कहा कि, पाकिस्तान प्रभावी तरीके से अपनी राष्ट्रीय कार्ययोजना पर काम कर रहा है और चीन उसे आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। चीन इस मामले में हर तरह से उसकी मदद करेगा।

यह भी पढ़ें: स्पेन में सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले के खिलाफ 350,000 प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान: नवाज शरीफ को पड़ा दिल का दौरा, अस्पताल में भर्ती

the gandhigiri, whatsapp news broadcast