होम Religion | धर्म 2 राम जन्मभूमि के बाद अब 2 राम मंदिर निर्माण को लेकर...

2 राम जन्मभूमि के बाद अब 2 राम मंदिर निर्माण को लेकर भारत – नेपाल के बीच छिड़ी जंग

199
india-ayodhya-ram-temple-and-ayodhyapuri-dham-in-nepal
The-Gandhigiri-tg-website-designer-Developer-lucknow

अयोध्या/काठमांडू: भगवान श्रीराम के जन्मस्थान विवाद को लेकर इन दिनों भारत – नेपाल आमने सामने खड़े हो गए हैं. जहां भारत का मानना है कि श्रीराम की जन्म भूमि उत्तर प्रदेश का अयोध्या जिला है वहीं नेपाल इसे बीरगंज के पास अयोध्यापुरी धाम (Ayodhyapuri Dham in Nepal) अयोध्या नगरी बता रहा है. अब राम मंदिर निर्माण को लेकर दोनों देशों के बीच जंग छिड़ गई है.

श्रीराम जन्म भूमि पर हालही में सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले ने दशकों बाद राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया. अब देश भर में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए आर्थिक दान की मुहिम चल रही है. इसी बीच नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भी उधर से एक रामबाण छोड़ दिया है.

ओली ने चितवन में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा की नेपाल में भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है.

बता दें कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली नेपाल के बीरगंज के पास अयोध्या नगरी बसाने की बात पहले ही कर चुके हैं. उन्होंने उस जगह को असली अयोध्या नगरी होने का दावा किया है.

राम मंदिर निर्माण को लेकर क्या है केपी शर्मा ओली का मास्टर प्लान ?

ओली ने राम मंदिर निर्माण से जुड़े मास्टर प्लान को बताते हुए कहा कि, ‘भगवान राम की मूर्ति का निर्माण पहले ही हो चुका है, माँ सीता की मूर्ति निर्माणाधीन है. अगले साल राम नवमी के मौके पर भगवान राम के जन्मस्थल अयोध्यापुरी में भव्य तरीके से प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन किया जायेगा.’

ओली ने उम्मीद जताई कि राम मंदिर बनने के बाद चितवन दुनिया के नक़्शे में हिन्दुओं, पुरातत्वविदों, सभ्यता और सांस्कृतिक विशेषज्ञों के लिए आकर्षण का एक बड़ा केंद्र बन जायेगा.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नेपाल में अयोध्या पुरी धाम (Ayodhyapuri Dham in Nepal) निर्माण के लिए ओली सरकार ने 40 एकड़ जमीन का आवंटन भी कर लिया है. नेपाल के चितवन जिले के माडी नगरपालिका की जमीन पर अयोध्यापुरी धाम बनाया जायेगा.

अन्य बड़ी खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें

the-gandhigiri-Whatsapp-news-Broadcast the-gandhigiri-telegram-channel