Home World | दुनिया पाकिस्तानी पुलिस की क्रूरता, कार न रोकने पर 21 साल के युवक...

पाकिस्तानी पुलिस की क्रूरता, कार न रोकने पर 21 साल के युवक को मारी 22 गोली

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) की इस्लामाबाद पुलिस (Police) की एक ऐसी हरकत सामने आई है, जिसको सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे। पाकिस्तान के इस्लामाबाद में पुलिस ने एक 21 साल के युवक पर 22 राउंड फायरिंग की, यानी 22 गोलियां मारी।

जिसके बाद अस्पताल जाने पर शख्स की मौत हो गई। पुलिस ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि शख्स ने पुलिस के कहने पर कार नहीं रोकी थी। शख्स का नाम उसामा सत्ती बताया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, शनिवार (2 जनवरी) के तड़के करीब 2 बजे के आसपास उसामा सत्ती कार चलाते हुए जा रहा था, पुलिस के कहने पर उसने कार नहीं रोकी, जिसके बाद सिपाहियों ने उससे ऊपर घातक हथियारों से फायरिंग शुरू कर दी।

इस दौरान शख्स के शरीर में 17 गोलियां लगी। जिसकी वजह से मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

इस्लामाबाद पुलिस ने कहा, 21 वर्षीय उसामा सत्ती को कथित तौर कार रोकने के लिए पुलिस की चेतावनी की अनदेखी करने के बाद श्रीनगर राजमार्ग पर गोली मार दी गई थी।

इस्लामाबाद पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, आतंकवाद निरोधी दस्ता उसके इलाके में गस्त लगा रहे थे। इसी दौरान उन्होंने उस कार को आते हुए देखा, जिसके शीशे ऊपर चढ़े हुए थे, इसलिए उन्होंने उसे रोकने के लिए कहा, लेकिन युवक ने उनकी बातों को अनदेखा कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने वाहन का पीछा किया और टायरों पर निशाना लगाकर गोलीबारी की।

पुलिस की बातों से इतर मृतक के पिता ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से पुलिस के हाथों मारे गए अपने बेटे के लिए इंसाफ की मांग की है।

युवक के पिता ने पुलिस को दी शिकायत में कहा, उनका बेटा एक दोस्त के साथ सुबह 2 बजे घर लौट रहा था।

उन्होंने कहा, खुद पुलिस अधिकारी (एसएसओ) ने स्वीकार किया है कि उसामा निर्दोष था, लेकिन, बाद में पुलिस ने कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया।

उन्होंने कहा, ‘मेरे बेटे को कई बार गोली मारी गई। उन्होंने (आतंकवाद विरोधी दस्ते) खुले तौर पर टायरों के बजाय विंडस्क्रीन पर निशाना लगाकर आतंकवाद को बढ़ावा दिया है।

पिता ने इस घटना में शामिल पुलिसकर्मियों पर आतंकवाद का आरोप लगाया जाने की मांग की है। उन्होंने कहा, उनके बेटे ने उन्हें अतीत के एक अवसर के बारे में सूचित किया था जब उसका कुछ पुलिसवालों के साथ बहसबाजी हो गई थी।

जिसके बाद पुलिस ने उसे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी। उन्होंने कहा, घटना की रात, पुलिस ने कथित तौर पर उसकी कार का पीछा किया और फिर उसे गोली मार दी।

Exit mobile version